Covid-19 Update

2,18,000
मामले (हिमाचल)
2,12,572
मरीज ठीक हुए
3,646
मौत
33,624,419
मामले (भारत)
232,000,738
मामले (दुनिया)

तिब्बती धर्मगुरू Dalai Lama पर आतंकवादी हमले की योजना से जुड़े दो गिरफ्तार

दोनों का संबंध जेएमबी के आतंकी जाहिदुल इस्लाम उर्फ कौसर के साथ बताया जा रहा

तिब्बती धर्मगुरू Dalai Lama पर आतंकवादी हमले की योजना से जुड़े दो गिरफ्तार

- Advertisement -

नई दिल्ली। तिब्बती धर्मगुरू दलाई लामा (Dalai Lama) पर आतंकी हमले की योजना (Terrorist Planning Attack) बनाने वाले दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इन दोनों पर तिब्बती धर्मगुरू की कर्नाटक के मुंडगोड की यात्रा के दौरान हमले की योजना का आरोप है। इन दोनों का संबंध जमात-उल.मुजाहिदीन बांग्लादेश (Jamaat-ul-Mujahideen Bangladesh) जेएमबी के आतंकवादी जाहिदुल इस्लाम उर्फ कौसर के साथ बताया जाता है। इसके चलते ही राज्य और केंद्र की संयुक्त जांच एजेंसियों ने कौसर के साथ कथित संबंधों के लिए दो लोगों को गिरफ्तार (Arrest) किया है। स्टेट इंटरनल सिक्योरिटी (एसआईएस) के कर्मियों और राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने सिरसी (Sirsi) में तलाशी अभियान चलाया और दो लोगों को गिरफ्तार किया। इनमें से एक की गिरफ्तारी सिरसी से और दूसरे की बनवासी से की गईं।

ये भी पढ़ेः Dalai Lama ने समझाया, Corona महामारी एक मानव समस्या-मनुष्य को खोजना होगा समाधान

कौसर (Kausar)ने मैथिन के नाम पर नौ सिम कार्ड खरीदे थे और उन्हें आतंकी गतिविधियों के लिए इस्तेमाल किया था। मैथिनए कुंडापुर स्थित मदरसा शिक्षक और सिरसी का मूल निवासी है। उसे हाल ही में भटकल और सिरसी से (JMB) के लिए भर्ती करने के संदेह में गिरफ्तार किया गया था। लेकिन बाद में उन्हें रिहा करना पड़ा क्योंकि उनके खिलाफ कोई सबूत नहीं था। पुलिस ने कहा था कि उसके नाम से दर्ज किया गया सिम कार्ड पर्याप्त प्रमाण नहीं है। सिरसी, मुंडगोड तिब्बती सैटलमेंट (Mundgod Tibetan Settlement) के नजदीक सबसे बड़े शहर में से एक है, जो भारत में सबसे बड़ी तिब्बती शरणार्थी बस्तियों में से एक है।

बताया जाता है कि म्यांमार में रोहिंग्या मुसलमानों (Rohingya muslims in Myanmar) के खिलाफ हिंसा के लिए कौसर बौद्धों को निशाना बना रहा है। इसके चलते ही कौसर ने मुंडगोड में तिब्बती धर्मगुरु दलाई लामा की यात्रा के दौरान आतंकी हमलों की योजना बनाई थी। तिब्बती धर्मगुरु दो सप्ताह के धार्मिक कार्यक्रम के तहत पिछले साल दिसंबर में मुंडगोड आए थे। दलाई लामा की सुरक्षा तिब्बतियों के साथ-साथ भारत सरकार के लिए बहुत बड़ी चिंता का विषय है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group   

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है