Covid-19 Update

3,08, 944
मामले (हिमाचल)
302, 438
मरीज ठीक हुए
4167
मौत
44,298,864
मामले (भारत)
598,393,278
मामले (दुनिया)

फैक्ट चेक! सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो फर्जी-संभव नहीं ऐसी ट्रांजेक्शन

सभी टोल प्लाजा के पास होता है एक यूनिक कोड

फैक्ट चेक! सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो फर्जी-संभव नहीं ऐसी ट्रांजेक्शन

- Advertisement -

सोशल मीडिया पर एक वीडियो ने कईयों के होश उड़ा रखे हैं। वीडियो एक लड़के से जुड़ा है जो गाड़ी का शीशा साफ करते हुए दिख रहा है। कहा ये जा रहा था कि शीशा साफ करने के बहाने अपने हाथ में बंधी स्मार्टवॉच (Smartwatch) से वह फास्टैग को स्कैन कर लेता है। इसकी भनक गाड़ी में बैठे शख्स को जब तक लगती है वह लड़का वहां से भाग जाता है। वीडियो बनाने वाले शख्स का दावा है कि स्मार्ट वॉच से फास्टैग (FASTag) को स्कैन कर पैसे चुराने का नया स्कैम (Scam) चल पड़ा है।

ये भी पढ़ें- अब टोल प्लाजा के FASTag पर चोरों की नजर, देखते ही देखते खाली कर रहे अकाउंट

लेकिन हकीकत में ऐसा मुमकिन नहीं है। क्योंकि कोई भी आपका फास्टैग यूं ही स्कैन नहीं कर सकता। फास्टैग से पेमेंट सिर्फ एप्रूव्ड मर्चेंट्स (Approved Merchants) को ही हो सकती है किसी अनऑथराइज्ड डिवाइस के लिए पेमेंट निकालना मुमकिन ही नहीं है। वीडियो वायरल होने के बाद फास्टैग पेटीएम और सरकार की तरफ से इस तरह के दावे को फर्जी करार दिया गया है।

सरकारी संस्था पीआईबी फैक्ट चेक (PIB Fact Check) ने भी सोशल मीडिया पर फैलाए जा रहे दावे को फर्जी बताया है। अगर सिर्फ घड़ी से फास्टैग को स्कैन करने से ही पैसे कटते तो पार्किंग में खड़ी गाड़ियों में भी ये फ्रॉड हो सकता है। वहां से भी फास्टैग को स्कैन कर पैसे उड़ाए जा सकते हैं।

इसी तरह पेटीएम (Paytm) और फास्टैग ने भी इस वीडियो को फेक बताते हुए लिखा है एक वीडियो में पेटीएम फास्टैग को लेकर गलत सूचना फैलाई जा रही है। बताया गया है कि फास्टैग भुगतान केवल रजिस्टर्ड व्यापारी ही कर सकते है।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है