Covid-19 Update

2,86,414
मामले (हिमाचल)
2,81,601
मरीज ठीक हुए
4122
मौत
43,502,429
मामले (भारत)
554,235,320
मामले (दुनिया)

हिमाचल हाईकोर्ट की कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश की बेटी मर्डर के आरोप में गिरफ्तार

सितंबर 2015 में हुई थी सुखमनप्रीत सिंह उर्फ सिप्पी सिद्धू की हत्या

हिमाचल हाईकोर्ट की कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश की बेटी मर्डर के आरोप में गिरफ्तार

- Advertisement -

चंडीगढ़। सीबीआई ने बुधवार को हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट की कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश की बेटी कल्याणी सिंह को राष्ट्रीय स्तर के शूटर ((National level shooter) सुखमनप्रीत सिंह उर्फ सिप्पी सिद्धू की हत्या के मामले में गिरफ्तार किया है। सिप्पी की हत्या चंडीगढ़ में सितंबर 2015 में की गई थी। जनवरी, 2016 में यह मामला सीबीआई को सौंप दिया गया था, जिसके बाद जांच एजेंसी ने हत्या का नया मामला दर्ज किया था। 36 वर्षीय एडवोकेट सिप्पी की 20 सितंबर, 2015 को सेक्टर 27 के एक पार्क में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। अपराध में 12 बोर की बंदूक का इस्तेमाल किया गया था और उसमें से चार गोलियां चलाई गई थीं। चंडीगढ़ पुलिस( (Chandigarh Police)ने हत्या का मामला दर्ज किया था और न्यायाधीश की बेटी सहित विभिन्न संदिग्धों के बयान दर्ज किए थे, जिन्हें सिप्पी के करीबी दोस्त माना जाता है। पुलिस हालांकि इस मामले की जांच को आगे नहीं बढ़ा पाई।

यह भी पढ़ें:हिमाचल में जमीनी विवाद: कुल्हाड़ी से हमला कर एक की हत्या, महिला सहित तीन गिरफ्तार

पुलिस ने संदिग्धों से दो बार पूछताछ की। सिप्पी के परिवार ने पुलिस पर उन्हें बचाने का आरोप लगाते हुए विरोध प्रदर्शन किया था। दिसंबर 2020 में सीबीआई ने अदालत को सूचित किया था कि उसके पास पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट के पूर्व न्यायाधीश की बेटी के अपराध में शामिल होने का कोई सबूत नहीं है। हालांकि, उसने कहा कि वह जांच को खुला रखेगा, क्योंकि उसे सिप्पी को खत्म करने में एक महिला की भूमिका के बारे में पुख्ता संदेह है। सिप्पी ( (Sukhmanpreet Singh alias Sippy Sidhu) )राइफल शूटर थे और उन्होंने 2001 में पंजाब नेशनल गेम्स में अभिनव बिंद्रा के साथ टीम के लिए स्वर्ण पदक जीता था। वह 15 साल से अधिक समय से शूटिंग सर्किट में थे और उन्होंने विभिन्न शूटिंग प्रतियोगिताओं में नियमित रूप से पदक जीते। वह भारत की पैरालंपिक समिति के संयुक्त सचिव भी थे। 22 जनवरी, 2016 को चंडीगढ़ के प्रशासक कप्तान सिंह सोलंकी ने मामले को सीबीआई को सौंप दिया था। सीबीआई ने जांच अधिकारी और अन्य पुलिसकर्मियों से पूछताछ की थी।

–आईएएनएस

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है