Covid-19 Update

2,26,859
मामले (हिमाचल)
2,22,190
मरीज ठीक हुए
3,825
मौत
34,555,431
मामले (भारत)
260,661,944
मामले (दुनिया)

खाने के तेल में होते हैं कई तरह के फैट, जानिए कौन सा तेल है सेहत के लिए सबसे सही

तेल वाली चीजों का अधिक सेवन करने से हो सकती है दिल की बीमारी

खाने के तेल में होते हैं कई तरह के फैट, जानिए कौन सा तेल है सेहत के लिए सबसे सही

- Advertisement -

फेस्टिव सीजन में व्यंजनों में तेल और घी ज्यादा इस्तेमाल होता है। ऐसे में सेहत के लिए कौन सा तेल (Oil) ठीक है इसका चुनाव करना बहुत जरूरी है। खाने के तेल में कई तरह के फैट पाए जाते हैं। इनमें सैचुरेटेड फैट, मोनोसैचुरेटेड फैट और पॉलीअनसैचुरेटेड फैटी एसिड पाए जाते हैं। वैसे हर तेल को लेकर अलग-अलग कई तरह की रिपोर्ट्स सामने आ चुकी हैं।

यह भी पढ़ें:हिमाचल के इस किसान ने खोजी नई तकनीक, मात्र 24 घंटें में तैयार होगा मशरूम कंपोस्ट

खाना पकाने के लिए इस्तेमाल होने वाला हर तेल उसके फल या बीज से निकलता है। इन्हें मशीन में दबाकर प्रॉसेस कर के इस्तेमाल के लिए निकाला जाता है। तेल में अधिक मात्रा में फैट शामिल होते हैं। जबकि मानव शरीर ज्यादा फैट नहीं पचा सकता है। फैटी एसिड सिंगल बॉन्ड से जुड़े होते हैं, जिन्हें सैचुरेटेड फैट कहा जाता, जो फैटी एसिड के कणों से मिलकर बनता है। जिस कारण जब कोई व्यक्ति तेल वाली चीजों का सेवन अधिक करने लगता है तो उसके शरीर में फैट जमा होने लगता है तो ये फैट दिल की बिमारी और ब्लड प्रेशर जैसी गंभीर स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं पैदा करता है।

विशेषज्ञों का कहना है कि जिस तेल में सैचुरेटेड फैट की मात्रा कम हो उसे खाना बेहतर होता है। उनका कहना है कि तेल को कम मात्रा में ही खाना चाहिए और उसे ज्यादा गर्म नहीं करना चाहिए। पॉलीअनसैचुरेटेड फैट और ओमेगा-3,6 फैट वाले तेल खाना बेहतर होता है। इससे खून में कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम होता है। साथ ही शरीर को जरूरी फैटी एसिड और विटामिन मिल जाते हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि तेल को बार-बार गर्म करके इस्तेमाल में लाना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है।

एक सर्वे में पाया गया है कि ऑलिव ऑयल यानि जैतून के तेल का ज्यादा इस्तेमाल दिल की बीमारियों की आशंका को पांच फीसदी तक कम कर देता है। जैतून का पेड़ के फल से प्राप्त एक वसा है जो भूमध्यसागरीय क्षेत्र की पारंपरिक फसल का पेड़ है। जैतून को फोड़ कर उनके गूदे से ऑलिव ऑयल को निकाला जाता है। इसे फिलहाल सबसे सेहतमंद तेल माना जाता है। कहा जाता है कि इससे दिल की बीमारियां खत्म हो जाती हैं। खाने के तेल में सैचुरेटेड फैट, मोनोसैचुरेटेड फैट और पॉलीअनसैचुरेटेड फैटी एसिड पाए जाते हैं। ये फैट दिल की बिमारी और ब्लड प्रेशर जैसी संबंधी समस्याएं पैदा करता है।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है