Covid-19 Update

2,21,203
मामले (हिमाचल)
2,16,124
मरीज ठीक हुए
3,701
मौत
34,043,758
मामले (भारत)
240,610,733
मामले (दुनिया)

उपचुनावः मंडी से बीजेपी प्रत्याशी ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर ने भरा नामांकन, सीएम जयराम रहे मौजूद

सीएम बोले- मंडी हमारी थी, हमारी है और हमारी ही रहेगी

उपचुनावः मंडी से बीजेपी प्रत्याशी ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर ने भरा नामांकन, सीएम जयराम रहे मौजूद

- Advertisement -

मंडी। मंडी संसदीय सीट से बीजेपी प्रत्याशी ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर ने आज निर्वाचन अधिकारी मंडी के समक्ष अपना नामांकन पत्र दाखिल कर दिया। इस मौके पर उनके साथ सीएम जयराम ठाकुर विशेष रूप से मौजूद रहे। निर्वाचन अधिकारी के पास नामांकन की औपचारिकताओं को पूरा करने के बाद मीडिया से बातचीत के दौरान सीएम जयराम ठाकुर ने बीजेपी प्रत्याशी की जीत का दावा किया। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर को उपचुनाव में प्रत्याशी बनाया है और अब इन्हें जीताकर संसद में भेजा जाएगा। उन्होंने अपनी बात को दोहराते हुए कहा कि मंडी हमारी थी, हमारी है और हमारी ही रहेगी।

यह भी पढ़ें:हिमाचल उपचुनावः  ब्रिगेडियर खुशाल सिंह, नीलम,  रतन व बलदेव बीजेपी ने उतारे मैदान में

बीजेपी प्रत्याशी ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर ने उन्हें टिकट देने के लिए पार्टी हाईकमान का आभार जताया। उन्होंने कहा कि पार्टी ने उनपर जो विश्वास जताया है वे उसपर खरा उतरने का प्रयास करेंगे। जनता और संगठन के सहयोग से यह सीट फिर से जीतकर भाजपा की झोली में डाली जाएगी। नामांकन के बाद भाजपा ने शक्ति प्रदर्शन करते हुए एक जलूस भी निकाला। इसके बाद ऐतिहासिक सेरी मंच पर एक विशाल जनसभा को भी संबोधित किया। इस मौके पर भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कश्यप, मंडी संसदीय क्षेत्र के चुनाव प्रभारी महेंद्र सिंह ठाकुर, सह प्रभारी गोबिंद सिंह ठाकुर और अन्य नेता भी मौजूद रहे।

कौन हैं ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर

ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर मूलतः मंडी जिला के द्रंग विधानसभा क्षेत्र के तहत आने वाले नगवाईं गांव के रहने वाले हैं। खुशाल ठाकुर एक सेवानिवृत फौजी हैं और ब्रिगेडियर के पद से सेवानिवृत हुए हैं। 67 वर्षीय खुशाल ठाकुर को कारगिल युद्ध का हीरो कहा जाता है और इन्हें युद्ध सेवा मेडल का सम्मान मिल चुका है। जिस 18 ग्रेनेडियर का इन्होंने कारगिल युद्ध के दौरान नेतृत्व किया उसने तोलोलिंग की पहाड़ी पर कब्जा किया था। इसे ही कारगिल युद्ध की जीत का टर्निंग प्वाईंट माना गया। सबसे ज्यादा मेडल 18 ग्रेनेडियर को ही मिले थे। विदेश में चलाए गए आपरेशन खुखरी का भी इन्होंने ही नेतृत्व किया था। सेवानिवृति के बाद खुशाल ठाकुर भाजपा में शामिल हो गए। 2014 के लोकसभा चुनावों में इनका नाम टिकट के दावेदारों में शामिल हुआ लेकिन मिला नहीं। उसके बाद इन्होंने फोरलेन प्रभावितों की आवाज बनने का काम किया और फोरलेन प्रभावित संघर्ष समिति के वर्षों तक अध्यक्ष रहे। 2019 में भी नाम प्रमुखता से चला और इन्हें बीजेपी ने कवरिंग कैंडिडेट बनाया। मौजूदा समय में इन्हें पूर्व सैनिक कल्याण निगम का चेयरमैन बनाया गया है। अब इन्हें उपचुनावों में बीजेपी ने अपना प्रत्याशी घोषित किया है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है