Covid-19 Update

1,61,072
मामले (हिमाचल)
1,24,434
मरीज ठीक हुए
2348
मौत
24,965,463
मामले (भारत)
163,750,604
मामले (दुनिया)
×

कोरोना की तीसरी लहर के अक्टूबर-नवंबर तक आसार-दुनियाभर के वैज्ञानिक परेशान

ऐसा कहा जा रहा है तीसरी लहर से बच सकते हैं,उपलब्ध है वैक्सीन

कोरोना की तीसरी लहर के अक्टूबर-नवंबर तक आसार-दुनियाभर के वैज्ञानिक परेशान

- Advertisement -

कोरोना की दूसरी लहर का कहर अभी तक पीछा नहीं छोड़ रहा कि तीसरी के आसार बन गए हैं। इसे लेकर दुनियाभर के वैज्ञानिक परेशान हो उठे हैं। हालांकि,ऐसा भी कहा जा रहा है कि वैक्सीन की उपलब्धता के चलते तीसरी लहर (Third Wave of Corona) से बचा जा सकता है। लेकिन इस सबके बीच वैज्ञानिक (Scientists) इस बात को लेकर चिंतित है कि ना जाने तीसरी लहर कितनी होगी। सीएसआईआर के महानिदेशक डॉ शेखर मांडे (CSIR Director General Dr Shekhar Mande) का कहना है कि दुनियाभर के वैज्ञानिक तीसरी लहर को रोकने के उपाय में लगे हुए हैं।


यह भी पढ़ें: हाईकोर्ट की केंद्र को फटकार-दिल्ली को आज नहीं दी ऑक्सीजन तो होगी अवमानना की कार्रवाई

डॉ मांडे का कहना है कि दुनियाभर में कई वैक्सीन आ गई हैं। उत्पादन तेज करने के प्रयास लगातार चल रहे हैं। ऐसे में लगता है कि सभी वैक्सीन मिलकर जरूरत को पूरा कर सकेंगी। वहीं,एसबीआई (SBI) की ताजा इकोरैप रिपोर्ट में भी कहा गया है कि किसी भी देश में 15 से 20 फीसदी जनसंख्या को इंजेक्शन की दोनों डोज लग जाने पर संक्रमण की रफतार को काबू किया जा सकता है। वहीं, नेशनल एक्सपर्ट ग्रुप आन वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन फॉर कोविड.19 के सदस्य डॉ एनके अरोड़ा (Dr NK Arora) का कहना है कि पहली लहर का पीक सितंबर में आया था। दूसरी लहर की शुरुआत फरवरी से शुरू होकर मई में पीक तक जाने के आसार हैं। उसके बाद तीसरी लहर आएगी। उनका कहना है कि अक्टूबर तक देश की बड़ी संख्या को टीका लग चुका होगा। कोवैक्सीन और कोविशील्ड दोनों गेमचेंजर (Game Changers)साबित होंगी।


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है