Covid-19 Update

2,22,569
मामले (हिमाचल)
2,17,256
मरीज ठीक हुए
3,719
मौत
34,161,956
मामले (भारत)
243,966,014
मामले (दुनिया)

हिमाचल: महंगाई के विरोध में CITU का हल्ला बोल, सरकार पर साधा निशाना

डीजल और गैस सिलेंडर महंगे होने का किया विरोध

हिमाचल: महंगाई के विरोध में CITU का हल्ला बोल, सरकार पर साधा निशाना

- Advertisement -

मंडी। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (CPM) की मंडी लोकल कमेटी ने सीटू (CITU) के बैनर तले गुरुवार को महंगाई और बेरोजगारी के खिलाफ जमकर हल्ला बोला। सीपीएम के नेताओं ने प्रदेश और केंद्र सरकार (Central Government) के खिलाफ सेरी मंच पर धरना प्रदर्शन किया गया। इस दौरान सीपीआईएम के शहरी सचिव सुरेश सरवाल ने कहा कि देश में महंगाई व बेरोजगारी लगातार बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि देश में 2014 के चुनावों  से पहले मौजूदा सरकार नारा दे रही थी कि बहुत हुई महंगाई की मार अबकी बार मोदी सरकार। मगर यह सरकार लगातार पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस और खाद्य वस्तुओं के दामों में लगातार बढ़ोतरी कर रही है।

यह भी पढ़ें: बीजेपी सरकार डिपो संचालकों के साथ कर रही भद्दा मजाक, कांग्रेस बनाएगी स्थाई नीति

सब्सिडी नाम मात्र की रह गई

सीपीएम नेता सुरेश सरवाल ने कहा कि देश में 2014 में जहां रसोई गैस का सिलेंडर 410 रुपए में मिलता था। अब यह सिलेंडर एक हजार रूपए को पार कर चुका है। सब्सिडी भी नाम मात्र की मिल रही है। उन्होंने कहा कि इसका मुख्य कारण सरकारी कंपनियों का निजीकरण कर प्राइवेट हाथों में देना है। उन्होंने कहा कि देश की सरकार इसको लगाम लगाने में विफल साबित हुई है। महंगाई के साथ-साथ बेरोजगारी भी चरम सीमा पर है। उन्होंने कहा कि करोड़ों युवा नौकरी की तलाश में घूम रहे हैं। मगर सरकारें केवल अखबारों में ही विज्ञापन दे रही हैं कि नौकरियां निकल रही हैं। उन्होंने कहा कि सही मायने में कोई भी सरकार नौकरी देने में असमर्थ है। जिस प्रकार की नौकरियों दी जा रही हैं, वह आउट सोर्स और ठेका प्रथा है। उन्होंने कहा कि महंगाई जिस रूप में बढ़ रही है वह इस बात को दर्शाता है कि आने वाले समय में देश में भुखमरी और तेजी से बढ़ेगी।

निजीकरण बंद करने की मांग

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने मांग उठाई है कि बढ़ती महंगाई पर रोक लगाई जाए, सभी युवाओं को स्थाई रोजगार, सरकारी क्षेत्रों का निजीकरण बंद करने, सार्वजनिक वितरण प्रणाली को मजबूत करने व सभी को 35 किलो अनाज सस्ते दामों में दिया जाए। सुरेश सरवाल ने चेतावनी दी है कि अगर सरकार उनकी मांगों को नहीं मानती है तो आने वाले समय मे सीपीआईएम उग्र आंदोलन करेगी।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है