Covid-19 Update

2,60,321
मामले (हिमाचल)
2,39. 550
मरीज ठीक हुए
3916*
मौत
38,903,731
मामले (भारत)
347,844,974
मामले (दुनिया)

शिमला को मिला अपना हेलीपोर्ट, क्या- क्या होगी यहां सुविधाएं पढ़ें

सीएम जयराम ने हेलीपोर्ट का किया लोकार्पण

शिमला को मिला अपना हेलीपोर्ट, क्या- क्या होगी यहां सुविधाएं पढ़ें

- Advertisement -

शिमला। पहाड़ों की रानी से मशहूर शिमला (Shimla) में आने वाले पर्यटकों को जुब्बड़हट्टी जाने से छुटकार मिल गया है। संजौली-ढली बाइपास के समीप 18 करोड़ से हेलीपोर्ट (Heliport) बन गया है। इससे पर्यटकों को शहर से दूर नहीं जाना पड़ेगा। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) ने बुधवार को संजौली-ढली बाइपास के समीप बने हेलीपोर्ट का लोकार्पण किया। इसके बनने से पर्यटकों को अब अपना हेलीपोर्ट मिल गया है, उन्हें जुब्बड़हट्टी की परेशानियों से छुटकारा मिलेगा। इससे पहले हवाई मार्ग से आने वाले पर्यटकों को जुब्बड़हट्टी हवाई पट्टी पर उतरना पड़ता था, जो शहर से दूर है। इसके लोकापर्ण के बाद सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि इस परियोजना के निर्माण के लिए केंद्र सरकार ने स्वदेश दर्शन कार्यक्रम के हिमालयन सर्किट के अंतर्गत 12.13 करोड़ रुपए और केंद्र सरकार की उड़ान-2 योजना के तहत 6 करोड़ रुपए प्रदान किए हैं। उन्होंने कहा इस हेलीपोर्ट से न केवल प्रदेश में आने वाले पर्यटकों को सुविधा मिलेगी, बल्कि आईजीएमसी (IGMC) के समीप होने से इसका उपयोग आपातकालीन सेवाओं में भी प्रभावी रूप से किया जा सकेगा।

यह भी पढ़ें: जेबीटी प्रशिक्षुओं के लिए सीएम जयराम ठाकुर ने किया बड़ा ऐलान, क्या कहा, जानें यहां

हेलीपोर्ट में होंगी यह सुविधाएं

जयराम ठाकुर ने कहा कि इस तीन मंजिला हेलीपोर्ट में सभी प्रकार की आधुनिक सुविधाएं जैसे रिसेप्शन काउंटर, हेलीपोर्ट प्रबंधक कार्यालय, टिकट काउंटर, और वीआईपी (VIP) लाउंज आदि शामिल हैं। उन्होंने कहा कि हेलीपोर्ट में यात्रियों के आगमन के लिए पोराटा केबिन की सुविधा, 50 वाहनों के लिए पार्किंग, हेलीकॉप्टर (Helicopter) के लिए डेक और सेफ्टी नेट भी हैं। यह हेलीपोर्ट 10.3 बीघा भूमि के क्षेत्र में फैला है तथा भिति चित्रों द्वारा इसका सौन्दर्यीकरण किया गया है। यह हेलीपोर्ट सीसीटीवी (CCTV) निगरानी तंत्र से पूर्ण रूप से युक्त है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की उड़ान-2 योजना के तहत बद्दी, रामपुर तथा मंडी में भी हेलीपोर्ट का निर्माण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार केंद्रीय पयर्टन तथा नागरिक उड्डयन मंत्रालय को रिकांगपिओए चंबा (Chamba), डलहौजी, जंजैहली, ज्वालाजी आदि में नए हेलीपोर्ट के निर्माण के लिए शीघ्र प्रस्ताव भेजेगी, जिससे इन क्षेत्रों में पयर्टन गतिविधियों को प्रोत्साहन मिलेगा।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है