Covid-19 Update

3,05, 383
मामले (हिमाचल)
2,96, 287
मरीज ठीक हुए
4157
मौत
44,170,795
मामले (भारत)
590,362,339
मामले (दुनिया)

हिमाचल: महिलाओं को अकेले सफर करने से नहीं लगेगा डर, वाहन ट्रैकिंग डिवाइस लांच

सीएम जयराम ने लांच किया वाहन लोकेशन ट्रैकिंग डिवाइस और आपातकालीन बटन

हिमाचल: महिलाओं को अकेले सफर करने से नहीं लगेगा डर, वाहन ट्रैकिंग डिवाइस लांच

- Advertisement -

शिमला। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने मंगलवार को सार्वजनिक वाहनों में महिलाओं एवं बच्चों की सहायता व सुरक्षा के लिए वाहन लोकेशन ट्रैकिंग डिवाइस लांच किया है। यह कार्यक्रम शिमला के पीटरहॉफ में आयोजित किया गया, जिसमें स्कूली बच्चों ने भी हिस्सा लिया। यहां से सीएम जयराम ठाकुर ने प्रदेशवासियों के लिए राज्य परिवहन विभाग के व्हीकल लोकेशन ट्रैकिंग डिवाइस (Vehicle Location Tracking Device) और आपातकालीन बटन निगरानी केंद्र का लोकार्पण किया। इस डिवाइस के लगने के बाद अब महिलाएं और बच्चे अकेले सार्वजनिक वाहनों में सफर करने पर अपने आप को सुरक्षित महसूस करेंगे। इस डिवाइस को लांच करने वाला हिमाचल पहला राज्य बना है। अब प्रदेश भर में इस डिवाइस बारे वाहन चालकों को जागरूक किया जाएगा। बता दें कि हर वाहन में सीट के पास एक पैनिक बटन (Panic Button) लगाया जाएगा। किसी भी तरह की विपरीत परिस्थिति व खतरे में सवारी उस बटन को दबाकर सहायता पा सकती है।

यह भी पढ़ें:CM जयराम ने कोविड वैक्सीन अमृत महोत्सव का किया शुभारंभ, लगेगी निशुल्क बूस्टर डोज

इस अवसर पर सीएम जयराम ठाकुर ने बताया कि इस व्हीकल लोकेशन ट्रैकिंग डिवाइस और आपातकालीन बटन निगरानी केंद्र को इमरजेंसी रिस्पांस सपोर्ट सिस्टम 112 से जोड़ा गया है। इस प्रणाली में जब पैनिक बटन दबाया जाता है, तो सैटेलाइट के जरिए 112 पर एक सिग्नल प्राप्त होगा और संकट में फंसे व्यक्ति से संपर्क करने के साथ पुलिस को भी सूचित किया जाएगा। जय राम ठाकुर ने कहा कि निर्भया की दुर्भाग्यपूर्ण घटना के बाद केंद्र सरकार ने महिलाओं और बच्चों की सुरक्षा के दृष्टिगत सार्वजनिक परिवहन वाहनों में व्हीकल लोकेशन ट्रैकिंग डिवाइस और इमरजेंसी पैनिक बटन लगाना अनिवार्य कर दिया है। उन्होंने कहा कि राज्य में महिलाओं और बच्चों की सुरक्षा के दृष्टिगत स्थापित किए गए इस निगरानी केंद्र के माध्यम से वाहनों की चोरी और वाहन दुर्घटनाओं का पता लगाना आसान हो जाएगा।

 

वाहनों की मिलेगी सटीक जानकारी

सीएम जयराम ने कहा कि यह एक अभिनव पहल है, जो राज्य की सड़कों को और अधिक सुरक्षित बनाएगी। उन्होंने कहा कि राज्य ने इस परियोजना के कार्यान्वयन में अग्रणी भूमिका निभाई है, जो प्रत्येक प्रदेशवासी के लिए गर्व का विषय है। जय राम ठाकुर ने कहा कि किसी भी आपातकालीन स्थिति में इस उपकरण के माध्यम से वाहन के संबंध में त्वरित व सटीक जानकारी उपलब्ध होगी। उन्होंने कहा कि 9423 से अधिक वाहनों को इस प्रणाली से जोड़ा गया है और पिछले एक साल दौरान इन वाहनों की यात्रा का पूरा विवरण निगरानी केंद्र में उपलब्ध होगा।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है