Covid-19 Update

3,07, 061
मामले (हिमाचल)
2,99, 605
मरीज ठीक हुए
4162
मौत
44,223,557
मामले (भारत)
593,515,060
मामले (दुनिया)

ब्रेकिंगः कॉलेज और विवि के शिक्षकों को लंबित यूजीसी पे स्केल देने का ऐलान

विवि 1,000 व कॉलेजों के करीब 2,000 शिक्षकों को मिलेगा लाभ

ब्रेकिंगः कॉलेज और विवि के शिक्षकों को लंबित यूजीसी पे स्केल देने का ऐलान

- Advertisement -

मंडी। चुनावी वर्ष में सीएम जयराम ठाकुर सभी वर्गों को खुश कर रहे हैं। इसी बीच आज मंडी में सरदार पटेल विश्वविद्यालय(Sardar Patel University) के लोकार्पण अवसर पर कॉलेज और विश्वविद्यालय के शिक्षकों को लंबित यूजीसी पे स्केल (UGC Pay Scale) देने का ऐलान किया। सीएम ने कहा कि इस संबंध में अधिसूचना एक महीने के भीतर जारी की जाएगी।शिक्षक लंबे समय से यूजीसी पे स्केल की मांग कर रहे थे। सरकार आर्थिक तंगी में जरूर है, लेकिन जिसका जो हक है वो उसे मिलेगा। ऐसे में अब प्रदेश में विश्वविद्यालयों के 1,000 व कॉलेजों के करीब 2,000 शिक्षकों को यूजीसी पे स्केल का लाभ मिलेगा।जाहिर है शिक्षक काफी समय से यूजीसी वेतनमान की मांग कर रहे थे। देव सदन मंडी के सभागार में उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि यह दिन राज्य के इतिहास में एक स्वर्णिम आंदोलन के रूप में दर्ज होगा कि राज्य में दूसरा राजकीय विश्वविद्यालय 52 वर्षों के बाद अस्तित्व में आया है, जिसका उद्देश्य राज्य के युवाओं को उच्च शिक्षा प्राप्त करने में सक्षम बनाना है। हिमाचल प्रदेश के गठन के बाद पहला राज्य विश्वविद्यालय शिमला में 22 जुलाई 1970 को स्थापित किया गया था।

यह भी पढ़ें:52 वर्षों के बाद हिमाचल को मिली दूसरी यूनिवर्सिटी, सीएम ने किया उदघाटन

सीएम जयराम ने विश्वविद्यालय के शिक्षकों और छात्रों से इस संस्थान के उज्ज्वल भविष्य के लिए लगन और मिशनरी उत्साह के साथ काम करने का आग्रह करते हुए कहा कि इस विश्वविद्यालय का नाम भारत के लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल के नाम पर रखा गया है। परिसर में सरदार पटेल की प्रतिमा स्थापित की जाएगी।


जय राम ठाकुर ने कहा कि मंडी में नये विश्वविद्यालय की स्थापना से प्रदेश के दूर-दराज क्षेत्रों से आने वाले विद्यार्थियों को लाभ होगा क्योंकि मण्डी हिमाचल के मध्य में स्थित है, इसलिए अब पांच जिलों के विद्यार्थियों को शिमला जाने की आवश्यकता नहीं होगी। दो विश्वविद्यालय होने से पीजी की सीटें भी बढ़ेंगी और छात्र उच्च शिक्षा के लिए आसानी से प्रवेश ले सकेंगे और हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय शिमला का बोझ भी कम होगा।

सीएम ने कहा कि एक छोटा राज्य होते हुए भी हिमाचल प्रदेश ने शिक्षा के क्षेत्र में देश के कई बड़े राज्यों को रास्ता दिखाया है। उन्होंने कहा कि अब राज्य सरकार शिक्षा की गुणवत्ता पर ध्यान दे रही है। उन्होंने कहा कि बोर्ड के नतीजों में सरकारी स्कूलों के छात्रों ने शानदार प्रदर्शन किया है। जय राम ठाकुर ने कहा कि शिव धाम का पहला चरण पूरा होने वाला है और एक बार पूरा होने के बाद यह पर्यटकों के लिए एक अतिरिक्त आकर्षण बन जाएगा।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है