Covid-19 Update

2,22,569
मामले (हिमाचल)
2,17,256
मरीज ठीक हुए
3,719
मौत
34,161,956
मामले (भारत)
243,966,014
मामले (दुनिया)

हिमाचल उपचुनाव: आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत का 100 मिनट में होगा निवारण

निर्वाचन आयोग ने लांच की सी विजिल मोबाइल ऐप, परितोषिक लेने- देने वाले को होगी सजा

हिमाचल उपचुनाव: आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत का 100 मिनट में होगा निवारण

- Advertisement -

धर्मशाला। स्वतंत्र तथा निष्पक्ष निर्वाचन प्रक्रिया को सुनिश्चित करने के लिए निर्वाचन आयोग ने सी विजिल मोबाइल ऐप (C Vigil Mobile App) लांच किया है। इस ऐप के माध्यम से आम जनता आदर्श आचार संहिता (Code of Conduct) के उल्लंघन की रिपोर्ट कर सकेगी। सी विजिल ऐप से प्राप्त शिकायतों का सौ मिनट में निवारण भी सुनिश्चित किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: हिमाचल स्वास्थ्य विभाग की करतूत, मृतक को बता दिया वैक्सीनेडेट

इसके साथ ही चुनाव आचार संहिता की उल्लंघना पर जिला कंट्रोल रूम में भी शिकायत दी जा सकती है। यह जानकारी जिला निर्वाचन अधिकारी, डीसी डॉ. निपुण जिंदल ने सोमवार को डीसी कार्यालय परिसर के सभागार में सभी विभागों के विभागाध्यक्षों के साथ आदर्श आचार संहिता की अनुपालना को लेकर आयोजित आवश्यक बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी।

चुनाव प्रचार में प्लास्टिक के प्रयोग पर रोक

उन्होंने कहा कि निर्वाचन आयोग (Election Commission) के निर्देशानुसार नए विकास कार्यों की घोषणा तथा शिलान्यास पर पूर्णतय रोक रहेगीए जबकि निर्वाचन की घोषणा होने से पहले कार्य चलते रहेंगे। राहत और पुनर्वास के कार्यों को भी नियमों के तहत जारी रखा जा सकता है। राजनीतिक सभाओं के लिए स्थान तथा समय सहित पूर्व अनुमति लेना जरूरी होगा।

यह भी पढ़ें: राजेंद्र राणा ने धर्मशाला में एक-एक कर खोले बीजेपी के कच्चे चिट्ठे, जाने क्या-क्या बोले

 

इसके साथ ही सार्वजनिक स्थल तथा मैदान सभाओं के लिए सभी दलों या प्रत्याशियों को समान रूप से उपलब्ध करवाए जाने का प्रावधान है। उन्होंने कहा कि मंदिर, चर्च, मस्जिद इत्यादि धार्मिक स्थलों को चुनाव प्रचार (Election Campaign) के लिए उपयोग नहीं किया जा सकता है। इसके साथ ही प्रचार सामग्री इको फ्रेंडली होनी चाहिए, प्लास्टिक के प्रयोग पर रोक रहेगी।

रिश्वत लेने और देने वाले को एक साल की सजा जुर्माना भी लगेगा

 

 

जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. निपुण जिन्दल (Dr. Nipun Jindal) ने कहा कि यदि कोई व्यक्ति निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान धनराशि या अन्य किसी प्रकार का परितोषण प्राप्त करता है या परितोषण देता है, जोकि किसी व्यक्ति के मतदान करने के अधिकार में प्रभाव डालता हो, को एक साल के कारावास या जुर्माना या दोनों की सजा हो सकती है। उन्होंने कहा कि निर्वाचनों के दौरान किसी भी प्रकार की रिश्वत (Bribe) लेने व देने से बचें। यदि कोई व्यक्ति रिश्वत देता है या रिश्वत दिए जाने बारे कोई जानकारी रखता है, तो वह तुरंत इसकी शिकायत जिला कांगड़ा में स्थापित जिला स्तरीय अनुश्रवण प्रकोष्ठ में स्थापित जो चौबीस घंटे कार्यरत है, पर निशुल्क नंबर 1800 180 8014 पर सूचित कर सकता है।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है