Covid-19 Update

2, 48, 895
मामले (हिमाचल)
2, 31, 328
मरीज ठीक हुए
3885*
मौत
37,618,271
मामले (भारत)
332,278,790
मामले (दुनिया)

हिमाचल: साइबर अपराध में वृद्धि, इंटरनेट पर महिलाओं से ज्यादा पुरुषों से हो रही ठगी

पुलिस जल्द चलाएगी साइबर सुरक्षा जागरूकता अभियान

हिमाचल: साइबर अपराध में वृद्धि, इंटरनेट पर महिलाओं से ज्यादा पुरुषों से हो रही ठगी

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल प्रदेश में महिलाओं से ज्यादा पुरुष साइबर अपराध (Cyber Crime) का शिकार होते हैं। इंटरनेट के जरिए होने वाले अपराध में लगातार वृद्धि हो रही है। वर्ष 2021 में हिमाचल पुलिस के पास साइबर अपराध की 8500 से ज्यादा शिकायतें दर्ज की गई। इंटरनेट से होने वाले अपराध की सूचना तुरंत टोल फ्री नंबर 155260 पर या हिमाचल पुलिस के व्हाट्सएप नंबर (Whatsapp Number) 9805953670 पर दी जा सकती है।

यह भी पढ़ें-बर्फबारी: हिमाचल के एक ही जिला में 200 से ज्यादा लोकल बस रूट पर यातायात प्रभावित

यह जानकारी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (साइबर क्राइम) नरवीर सिंह राठौर ने उमंग फाउंडेशन (Umang Foundation) के मानवाधिकार जागरूकता पर साप्ताहिक वेबीनार में दी। इसका विषय था कि साइबर अपराध से सुरक्षा का अधिकार। उन्होंने साइबर सुरक्षा के बारे में जानकारी दी और बताया कि इंटरनेट (Internet) के जरिए कोई अपराध होने पर तुरंत क्या कदम उठाए जाए जाने चाहिए। वेबिनार में हिमाचल प्रदेश के अलावा चंडीगढ़, दिल्ली, झारखंड, बिहार और उत्तराखंड के लगभग 80 युवाओं ने हिस्सा लिया।

कार्यक्रम के संयोजक संजीव शर्मा के अनुसार उमंग फाउंडेशन के अध्यक्ष प्रो. अजय श्रीवास्तव ने कहा कि मोबाइल से पढ़ने वाले स्कूली बच्चों को साइबर सुरक्षा की जानकारी दी जानी चाहिए ताकि उनका शोषण ना हो सके। नरवीर सिंह राठौर ने बताया कि देश में 72 करोड़ से ज्यादा लोग इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं। इनमें 67% पुरुष और 33% महिलाएं हैं। इंटरनेट यूजर में से 62% लोग सोशल मीडिया से जुड़े हैं। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट एवं अन्य अदालतें यह स्पष्ट कर चुकी है कि इंटरनेट का इस्तेमाल और साइबर सुरक्षा किसी भी व्यक्ति या संस्थान का मौलिक अधिकार है। उन्होंने हैकिंग और अन्य साइबर अपराध से सुरक्षा के कई उपाय भी बताए।

नरवीर सिंह राठौर ने कहा कि जागरूकता ही साइबर सुरक्षा (Cyber Security) का सबसे बड़ा उपाय है। अज्ञानता में साइबर ठगी का शिकार होने वाले लोगों में उच्च शिक्षित व्यक्ति जैसे डॉक्टर, इंजीनियर, प्रोफेसर, अफसर और पूर्व प्रशासनिक अधिकारी भी शामिल हैं। उन्होंने बताया कि हाल ही में केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों को साइबर सुरक्षा जागरूकता अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं। हिमाचल प्रदेश पुलिस भी जल्द ही यह अभियान शुरू करेगी।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है