Covid-19 Update

2,27,354
मामले (हिमाचल)
2,22,669
मरीज ठीक हुए
3,833
मौत
34,606,541
मामले (भारत)
264,096,760
मामले (दुनिया)

हिमाचल के इस जिला में डेंगू और स्क्रब टायफस का अटैक, स्वास्थ्य विभाग ने जारी की एडवाइजरी

2 महीनों के दौरान ही जिला में डेंगू के 31 और स्क्रब टायफस के 39 मामले सामने आए

हिमाचल के इस जिला में डेंगू और स्क्रब टायफस का अटैक, स्वास्थ्य विभाग ने जारी की एडवाइजरी

- Advertisement -

ऊना। अभी तक ऊना में कोविड-19 का कहर थमा नहीं थी कि डेंगू और स्क्रब टायफस ने पैर पसारना शुरू कर दिया है। हालत यह है कि पिछले 2 महीनों के दौरान ही जिला में डेंगू के 31 और स्क्रब टायफस के 39 मामले सामने आ चुके हैं। जिला में दोनों बीमारियों की गंभीर होती स्थिति के चलते जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग द्वारा एक बार फिर एडवाइजरी जारी की गई है। डेंगू की रोकथाम के लिए लोगों को स्वच्छता का संदेश दिया जा रहा है वहीं अपने आसपास कहीं भी पानी जमा न होने देने की भी हिदायत जारी की गई है। वहीं स्क्रब टायफस से बचाव के लिए भी लोगों को बुखार आदि आने पर जल्द अपना टेस्ट करवाने को कहा जा रहा है।

ये भी पढ़ेः हमीरपर में 12 खोखा धारकों पर प्रशासन की कार्रवाई, सामान भी किया जब्त

डेंगू और स्क्रब टायफस के चलते जिला ऊना में दिनों दिन स्थिति गंभीर होती जा रही है। हालत की है कि जिला में अभी तक डेंगू के 31 और स्क्रब टायफस के 39 मामले पिछले 60 दिनों में सामने आ चुके हैं। जबकि शुक्रवार को जिला ऊना में चार लोगों में स्क्रब टायफस और पांच लोगों में डेंगू की पुष्टि हुई है। वही इन दोनों रोगों से बचाव के लिए जिला वासियों को जल्द अपनी जांच कराने की भी हिदायतें जारी की जा रही है। गौरतलब है कि जिला में डेंगू और स्क्रब टायफस के चलते हैं इससे पूर्व ऐसी विकट परिस्थिति कभी पैदा नहीं हुई थी। एक तरफ जिला में कोविड-19 का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। वहीं दूसरी ओर डेंगू तथा स्क्रब टायफस ने भी जिला प्रशासन के साथ-साथ स्वास्थ्य विभाग की चिंताओं में खूब इजाफा किया है।

सीएमओ ऊना डॉ रमन शर्मा ने पुष्टि करते हुए बताया कि जिला ऊना में रोजाना डेंगू और स्क्रब टायफस के मामले सामने आ रहे है। उन्होंने बताया कि जिला में डेंगू के 31 मामलों में से एक को गंभीर हालत के चलते हैं टांडा मेडिकल कॉलेज रेफर करना पड़ा है। जबकि स्क्रब टायफस के भी 39 मामले सामने आ चुके हैं। उन्होंने डेंगू से बचाव के लिए अपने आसपास मच्छरों को ना पनपने देने की अपील की है। उन्होंने कहा कि अपने आसपास कहीं भी पानी जमा ना होने दें। सीएमओ डॉ रमन शर्मा का कहना है कि इन दिनों घाटियों में होने वाली लंबे पत्तों वाली घास स्क्रब टायफस का कारण बनती जा रही है। उन्होंने कहा कि लोग अपने शरीर को पूरी तरह से ढक कर रखें। ताकि डेंगू और स्क्रब टायफस जैसी बीमारियों को बढ़ने से रोका जा सके। सीएमओ ऊना ने बताया कि विभाग द्वारा अंब क्षेत्र के बाद अब ऊना शहरी क्षेत्र में भी फॉगिंग शुरू करवा दी गई है।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है