Covid-19 Update

1,37,766
मामले (हिमाचल)
1,02,285
मरीज ठीक हुए
1965
मौत
22,992,517
मामले (भारत)
159,607,702
मामले (दुनिया)
×

शादी के लिए यहां चुरानी पड़ती है किसी दूसरे की पत्नी-वजह जानकर चौंक जाएंगे

लड़के चेहरे पर रंग लगाकर आते हैं और शादीशुदा महिला को रिझाते हैं

शादी के लिए यहां चुरानी पड़ती है किसी दूसरे की पत्नी-वजह जानकर चौंक जाएंगे

- Advertisement -

दुनिया अजब-गजब है, कहीं-कहीं तो ऐसी परंपराएं हैं कि सुनकर कोई भी हैरान हो जाता है। आज हम आपको एक ऐसी ही परंपरा से रूबरू करवाने जा रहे हैं, इसे सुनकर शायद आप भी चौंक जाएं। शादी के लिए किसी तरह के रिश्ते की जरूरत नहीं बल्कि किसी दूसरे की पत्नी को भगाना (Someone’s Wife) होता है। यानी एक ऐसा रिवाज है कि लोग एक-दूसरे की बीवियों को चुराकर शादी करते हैं। पश्चिमी अफ्रीका की वोदाब्बे जनजाति (Wodabbe tribe of West Africa) के लोग कुछ ऐसा ही करते हैं।


यह भी पढ़ें: लीडर हो तो ऐसा : छोटे से पपी की आवाज से दौड़े चले आए दर्जनों खूंखार कुत्ते

वोदाब्बे जनजाति में रिवाज है कि शादी के लिए आपको दूसरे की बीवी को चुराना पड़ता है। इस तरह की शादी इस जनजाति की पहचान है। रिवाज ये है कि पहली शादी (First Marriage) घरवालों की मर्जी से होती है, लेकिन दूसरी शादी करने के लिए पुरुषों को किसी की पत्नी को चोरी करना होता है। यहां हर साल गेरेवोल फेस्टिवल (Gerevol Festival) होता है। इस दौरान लड़के चेहरे पर रंग लगाकर आते हैं। ये लड़के पराई औरतों को रिझाने का प्रयास करते हैं। ऐसा करते वक्त इस बात पर ध्यान रखा जाता है कि महिला का पति (Woman’s Husband)ये सब ना देख रहा हो और उसे इस बात की जानकारी ना हो।

अगर लड़का पराई औरत को रिझाने में सफल रहता है तो वह उसे लेकर भाग जाता है। बाद में समुदाय के ही लोग उनका विवाह करवा देते हैं। समुदाय के लोग इसे (Love Marriage)लव मैरिज मानकर स्वीकार कर लेते हैं। इस पर किसी को कोई आपत्ति नहीं होती है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group  

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है