Covid-19 Update

3,04, 436
मामले (हिमाचल)
2,95, 181
मरीज ठीक हुए
4154
मौत
44,126,994
मामले (भारत)
588,052,691
मामले (दुनिया)

हिमाचल: फोरलेन प्रभावितों का फूटा गुस्सा, टकोली टोल प्लाजा पर की सांकेतिक भूख हड़ताल

संगठन से जुड़े सैंकड़ों लोगों ने टोल प्लाजा पर जताया अपना रोष चार गुणा दो मुआवजा

हिमाचल: फोरलेन प्रभावितों का फूटा गुस्सा, टकोली टोल प्लाजा पर की सांकेतिक भूख हड़ताल

- Advertisement -

मंडी। हिमाचल के मंडी व कुल्लू में बनने वाले फोरलेन से प्रभावित (Four lane affected ) किसानों ने उन्हें चार गुणा मुआवजा देने, दुकानदारों के पुनर्स्थापन व पुनर्वासन आदि के मुद्दों को लेकर रविवार को टकोली टोल प्लाजा पर सांकेतिक भूख हड़ताल (Symbolic Hunger Strike) की। सुबह नौ बजे से शाम पांच बजे तक किए गए सांकेतिक धरने प्रदर्शन व भूख हड़ताल में सैंकड़ों किसानों ने भाग लिया और अपनी मांगों को लेकर नारेबाजी भी की। इस मौके पर फोरलेन प्रभावित किसान संघ ((Four lane affected Farmer Association) मंडी कुल्लू के अध्यक्ष नरेश कुमार कुक्कू ने बताया कि सरकार ने उनसे वार्ता करने और किसानों की समस्या का हल निकालने के लिए 31 जनवरी का समय दिया था। लेकिन आज दिन तक फोरलेन प्रभावितों से किसी प्रकार का पत्राचार नहीं किया गया है और ना ही सब कमेटी की अभी तक कोई बैठक हो पाई है।

यह भी पढ़ें:हिमाचलः कीरतपुर -मनाली फोरलेन के पंडोह बायपास टकोली प्रोजेक्ट का 75 प्रतिशत काम पूरा

इसी बात से नाराज फोरलेन प्रभावित किसानों ने टोल प्लाजा पर एक दिन का सांकेतिक धरना प्रदर्शन व भूख हड़ताल की। फोरलेन प्रभावित संघ ने चेतावनी दी है कि यदि जल्द फोरलेन प्रभावित किसानों के मसले हल नहीं किए गए तो फिर आने वाले समय में उग्र आंदोलन किया जाएगा। कुक्कू ने बताया कि फोरलेन परियोजनाओं से प्रभावितों की लंबे समय से चली आ रही मांगों के समाधान ना होने से उपजा रोष अब सिर पर आ चुके विधान सभा चुनावों के लिए बड़ा मुद्दा बनता जा रहा है। धीरे-धीरे पूरे प्रदेश के फोरलेन प्रभावित इस मुद्दे पर मुखर हो रहे हैं जिसका खामियाजा हिमाचल प्रदेश की मौजूदा सरकार को आने बाले 2022 के चुनावों में भुगतना पड़ेगा।

यह भी पढ़ें:पठानकोट-मंडी फोरलेन का काम पकड़ेगा रफ्तार, केंद्र ने 696 करोड़ का बजट किया मंजूर

उन्होंने बताया कि 2015 से कांग्रेस की सरकार व 2017 से बीजेपी की सरकार ने अब तक प्रभावितों की मांगों को अनसुना ही किया। जिससे किसानों में रोष है। इस मौके पर जोगिंदर वालिया, प्रेम ठाकुर, लारजी पंचायत के पूर्व प्रधान डोला सिंह महंत, भुंतर सुधार समिति के अध्यक्ष मेघ सिंह कश्यप, बंसी लाल ठाकुर, मनीष कौंडल, रविंद्र परमार, पीडी आजाद, शेर सिंह, वीर महिला मंडल, शीतला महिला मंडल, नारी शक्ति महिला मंडल सहित श्याम, ईश्वर गांधी, आशीष, ज्ञानचंद, विपिन व पिंकी आदि फोरलेन प्रभावित उपस्थित रहे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है