Covid-19 Update

2, 85, 012
मामले (हिमाचल)
2, 80, 818
मरीज ठीक हुए
4117*
मौत
43,140,068
मामले (भारत)
528,280,106
मामले (दुनिया)

COVID बूस्टर डोज के नाम पर हो रही ठगी, मिनटों में खाली हो सकता है बैंक अकाउंट

स्वास्थ्य कर्मियों के रूप में कर रहे धोखा

COVID बूस्टर डोज के नाम पर हो रही ठगी, मिनटों में खाली हो सकता है बैंक अकाउंट

- Advertisement -

कोरोना वायरस (CoronaVirus) ने दुनिया भर में कहर मचा रखा है। वहीं, अब कोरोना का नया वैरिएंट ओमिक्रोन (Omicron) का भी खतरा बढ़ता जा रहा है। हालांकि, भारत में सरकार ने 60 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को कोरोना की बूस्टर डोज देना शुरू कर दी है, लेकिन कुछ लोग कोविड बूस्टर डोज (Covid Booster Dose) के नाम पर घोटाला भी कर रहे हैं। धोखेबाज स्वास्थ्य कर्मियों के रूप में लोगों से बैंक अकाउंट की डिटेल लेने की कोशिश कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें- कोरोना से भी तेजी से फैल रहा ओमिक्रोन वैरिएंट, रिसर्च में सामने आई हैरान करने वाली बात

स्वास्थ्य कर्मियों के रूप में बदमाश लोगों को फोन करते हैं और व्यक्ति से एड्रेस, फोन नंबर आदि समेत कई जानकारियां लेते हैं और फिर बूस्टर डोज लगवाने के लिए पूछते हैं। एक बार वैक्सीनेशन की डेट और समय की पुष्टि हो जाने के बाद वह मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी भेजते हैं। इसके अलावा कुछ मामलों में बदमाश बुकिंग प्रोसेस में मदद करने के लिए किसी स्पेशल ऐप जैसे AnyDesk को डाउनलोड करने के लिए भी कहते हैं। ये ओटीपी और कुछ नहीं बल्कि फिशिंग स्कैम है, जो व्यक्ति के बैंक अकाउंट से मनी ट्रांसफर को वैलिडेट करने का आखिरी रास्ता है। एक बार जब आप उन्हें ओटीपी देते हैं, तो आपके बैंक अकाउंट से सभी पैसे का लेन-देन हो जाता है।

रिपोर्ट्स के अनुसार, कोविड स्कैम ज्यादातर ग्रामीण इलाकों में हो रहा है, जहां बुजुर्गों को शायद ही इस बात का अंदाजा ना हो कि वैक्सीन स्लॉट बुकिंग के लिए इंटरनेट बैंकिंग, यूपीआई या मोबाइल ऐप कैसे काम करता है। आसान मनी ट्रांसफर के लिए ओटीपी लेने के लिए स्कैमर्स उनके साथ छेड़छाड़ करने की कोशिश करते हैं।

ऐसे बचाएं खुद को

बता दें कि सरकार ने फोन कॉल के माध्यम से वैक्सीन स्लॉट बुक करने का ऑप्शन ऑफर नहीं किया है। वैक्सीन स्लॉट बुक करने का एकमात्र तरीका कॉइन पोर्टल या आरोग्य सेतु ऐप पर जाकर है। यहां तक कि अगर आप ऑनलाइन बुकिंग नहीं कर पा रहे हैं, तब भी आप किसी भी वैक्सीन सेंटर पर जाकर वैक्सीन (Vaccine) के लिए अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। ओटीपी पाने के मामले में, यह सलाह दी जाती है कि कोई भी कदम उठाने से पहले मैसेज को ध्यान से पढ़ें। इसके यूजर कॉल ब्लॉकर ऐप डाउनलोड कर सकता है, जो यह बताता है कि यह स्पैम कॉल है या नहीं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है