×

#MonsoonSession: पंचायत चौकीदार व NHM में तैनात डॉक्टर के लिए सरकार नहीं बनाएगी नीति

सीएम जयराम बोले- विपक्ष का आपस में कोई तालमेल नहीं है

#MonsoonSession: पंचायत चौकीदार व NHM में तैनात डॉक्टर के लिए सरकार नहीं बनाएगी नीति

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल प्रदेश विधानसभा के मानसून सत्र( Monsoon Session of Himachal Pradesh vidhansabha)के नौवें दिन प्रश्नकाल के दौरान नेता विपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने सरकार से पूछा कि क्या सरकार अनस्पेंट मनी( Unspent money) को खर्च करने की योजना बना रही है और इस अन स्पेंट मनी में विधायक निधि व रेडक्रॉस सोसाइटी का पैसा भी है। जिसके जवाब में सरकार ने बताया कि 15,000 हजार करोड़ से अधिक अन स्पेंट मनी को खर्च करने के लिए विभागों को योजना बनाने के निर्देश दिए गए हैं और इस अनस्पेंट मनी में विधायक निधि और रेड क्रॉस सोसाइटी में विभिन्न विभागों की डिपॉजिट मनी भी शामिल है लेकिन निगमो, बोर्डों और सोसाइटी का पैसा इसमें सम्मिलित नहीं है।


ये भी पढे़ं – Live: मानसून सत्र के नौंवे दिन की कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष का सदन से Walkout

प्रश्नकाल के दौरान विधायक हर्षवर्धन चौहान द्वारा पूछे गए पंचायत चौकीदार को नियमित करने के सवाल पर पंचायती राज मंत्री ने बताया कि पंचायत चौकीदार( Panchayat Chowkidar) को नियमित करने के लिए सरकार के पास फिलहाल कोई योजना नहीं है।एनएचएम के तहत नियुक्त डॉक्टर को नियमित करने को लेकर सरकार कोई नीति नहीं बनाएगी।
विनय कुमार द्वारा एनएचएम में लगे डॉक्टर को नीति बनाने के सवाल पर स्वास्थ्य स्वास्थ्य मंत्री ने सदन में जानकारी दी कि केंद्र सरकार प्रोजेक्ट के डॉक्टरों को नियुक्ति दी है इसलिए यह राज्य सरकार के दायरे से बाहर है इसलिए सरकार इस पर नीति नही बना सकती है।

ये भी पढे़ं – #NarendraModiBirthday : भाजयुमो ने लगाया रक्तदान शिविर, NSUI ने मनाया बेरोजगार दिवस

वंही प्रश्नकाल से पहले ही सदन में विपक्ष के हंगामे पर सीएम जयराम ठाकुर ने सदन में कहा कि अबकी बार मानसून सत्र में महत्वपूर्ण चर्चा होनी चाहिए। सत्र की अवधि को लंबा रखा गया है। पहले दिन से ही विपक्ष की परिस्थितियां ऐसी रहीं। विपक्ष का आपस में कोई तालमेल नहीं है। सब लोग नेता बनने की कोशिश में लगे हैं। इनके नेता के कहने से पहले ही पीछे से कोई खड़ा हो जाता है और कहता है कि वॉकआउट करेंगे। इस तरह का व्यवहार सदन की गरिमा के खिलाफ है।
इसके अलावा सदन में नियम 62 के तहत विधायक रविंद्र कुमार और सुरेंद्र शौरी की तरफ से लाए गए ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पर भी चर्चा हुई

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है