Covid-19 Update

2, 84, 964
मामले (हिमाचल)
2, 80, 747
मरीज ठीक हुए
4117*
मौत
43,127,032
मामले (भारत)
524,096,444
मामले (दुनिया)

पाकिस्तान के कोर्ट और संसद में क्यों रखी होती है हनुमान जी की गदा, यह है बड़ा राज

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही तस्वीरों को देख लोग हो रहे हैरान

पाकिस्तान के कोर्ट और संसद में क्यों रखी होती है हनुमान जी की गदा, यह है बड़ा राज

- Advertisement -

भारत (India) के देवी-देवताओं में हनुमान जी को विशेष दर्जा मिला हुआ है। हनुमान जी (Hanuman Ji) के नाम मात्र से लोगों के कष्ट दूर हो जाते हैं। जो लोग भूत और अंधेरे से डरते हैं, उन्हें हनुमान नाम से शाक्ति मिलती है। आपको सड़कों से लेकर गली मोहल्लों में हनुमान जी के मंदिर मिल जाएंगे। भारत के लोग हनुमान जी के प्रति विश्वास और आस्था रखते हैं। उनके गदे की भी पूजा होती है। पुराणों और ग्रंथों में जहां-जहां हनुमान जी का जिक्र हुआ है वहां हनुमान जी ने अपनी गदा से बुरी शक्तियों का नाश किया है, इसलिए कुछ लोग गले में भी इस पवित्र गदे को धारण करते हैं। गदा के धारण करने से क्रोध, लालच, अंहकार (ego) और वासना कंट्रोल में रहता है। इसके अलावा संप्रभुता शासन का अधिकार और शासन करने की शक्ति का प्रतीक भी माना जाता था।

यह भी पढ़ें- छुट्टी के लिए छात्र ने लिखा मजेदार पत्र, सोशल मीडिया पर हुआ वायरल

सोशल मीडिया (Social Media) पर गदा की एक तस्वीर काफ़ी वायरल हो रही है, जिसमें अदालत में जज (Judge) की टेबल पर हनुमान जी की गदा रखी हुई है। यह तस्वीर पाकिस्तान (Pakistan) की बताई जा रही है। आपको जानकर हैरानगी होगी कि पाकिस्तान की अधिकतर अदालतों में जज की टेबल पर गदा रखी जाती है। इसके अलावा पाकिस्तान की संसद में भी स्पीकर की टेबल पर हनुमान जी का गदा रखी हई है। भारत में इन तस्वीरों (Pictures) को देखकर लोग बहुत खुश हो रहे है। लोगों का कहना है कि पाकिस्तान में भी हनुमान जी के गदे को मानते हैं।

इन तस्वीरों के पीछे भी एक राज है। आपके दिलों दिमाग (Mind) में एक सवाल तो जरूर घूम रहा होना कि पाकिस्तान में हनुमान की गदा को इतनी मान्यता क्यों। तो चलिए इस प्रश्न के ऊपर से उठाते हैं पर्दा। सोशल मीडिया पर पाकिस्तान की अदालत और संसद में रखी गदा की जो तस्वीरें वायरल हो रही हैं वो बिलकुल असली हैं। आपको बता दें कि केवल पाकिस्तान ही नहीं, बल्कि दुनिया (World) के लगभग सभी लोकतांत्रिक देशों में इसी तरह की गदा विधानसभा के अंदर देखने को मिल जाती है। इसका रंग रूप और बनावट देश के हिसाब से अलग-अलग है। ख़ासकर ब्रिटेन (Britain) के अधीन रह चुके कॉमनवेल्थ राष्ट्रों के सदन में सभापति की टेबल पर गदा देखने को मिल जाता है।

यह भी पढ़ें-गुब्बारे के साथ वॉलीबॉल खेलते कुत्तों का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल, यहां देखें

 

दरअसल संसद (Parliament) और अदालतों में स्पीकर और जज की टेबल पर गदा रखने के पीछे एक ख़ास मकसद होता है। ये इंसान के क्रोध, लालच, अहंकार, वासना और किसी के प्रति लगाव और उसके पास शासन का अधिकार करने की शक्ति रखता है। सच ये है कि ये हनुमानजी की गदा नहीं, बल्कि इसे स्पीकर अध्यक्ष की गदा कहते हैं। ये ब्रिटिश परंपरा है। भारत में भी स्पीकर की टेबल पर इसे देखा जा सकता है। आज़ादी से पहले भारत की संसद में स्पीकर की टेबल पर भी ऐसी एक गदा रखी जाती थी, लेकिन आज़ादी के बाद इसे हटा दिया गया।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है