Covid-19 Update

2,62,087
मामले (हिमाचल)
2, 42, 589
मरीज ठीक हुए
3927*
मौत
39,543,328
मामले (भारत)
352,920,702
मामले (दुनिया)

माइनस तापमान के बीच वैक्सीनेशन लगाने पैदल पहुंचे स्वास्थ्य कर्मी, हौंसले को लोग कर रहे सलाम

पैदल शाक्टी पहुंचा स्वास्थ्य विभाग, केलांग पहुंचने में 129 किमी का करना पड़ा सफर

माइनस तापमान के बीच वैक्सीनेशन लगाने पैदल पहुंचे स्वास्थ्य कर्मी, हौंसले को लोग कर रहे सलाम

- Advertisement -

कुल्लू/लाहुल-स्पीति। हिमाचल प्रदेश में कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज का लक्ष्य पूरा करने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा पुरजोर प्रायास किए जा रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीमें अति दुर्गम क्षेत्रों में पैदल जाकर लोगों को कोविड वैक्सीन (covid vaccine) की दूसरी डोज (second dose) लगा रही हैं। जिला प्रशासन द्वारा स्वास्थय विभाग को मोबाइल वैन के माध्यम से कल्सटर गांव तक पहुंचने के निर्देश दिए गए हैं।

ये भी पढ़ें: स्वास्थ्य क्षेत्र में हिमाचल बना नंबर वन राज्य, सीएम ने कोरोना योद्धाओं को दी बधाई

बता दें कि जिला कुल्लू में स्वास्थ्य विभाग की टीम बंजार उपमंडल के अति दुर्गम व सुदूर गांव शाक्टी-मरौड़ में लगभग 24 किलोमीटर की दूरी पैदल तय करके पहुंची और वहां सभी 40 लोगों को दूसरी डोज प्रदान की। डीसी कुल्लू आशुतोष गर्ग ने कहा कि कोरोना वैक्सीन की पहली डोज के लिए भी स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव पहुंची थी। उन्होंने जिलावासियों से एक-दो दिन में कोविड की दूसरी वैक्सीन लगवाने की अपील की है। उन्होंने कहा कि जिला कुल्लू को प्रदेश में दूसरी डोज का लक्ष्य प्राप्त करने वाला पहला जिला बनाया जाएगा। डीसी गर्ग ने कहा कि हिमाचल प्रदेश पहली डोज के शत-प्रतिशत लक्ष्य को हासिल करने वाला देश का प्रथम राज्य बना था और अब दूसरी डोज के लिए भी प्रथम राज्य बनाने की दिशा में प्रयास किए जा रहे हैं। डीसी गर्ग ने कहा कि कोरोना वायरस का तीसरा वेरियंट अनेक देशों में तेजी के साथ फैल रहा है और यह काफी खतरनाक बताया जा रहा है। इससे सुरक्षित रहने के लिए जरूरी है कि वैक्सीन की दोनों डोज व्यक्ति को लगी हो। इससे व्यक्ति में पर्याप्त एंटी बॉडीज बन जाती है और संक्रमण से जान को खतरा नहीं रहता है।

वैक्सीनेशन के जिला नोडल अधिकारी डॉ. अतुल ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग ने अनेक टीमें वैक्सीनेशन के लिए गठित की हैं और यह टीमें घर-द्वार जाकर लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज प्रदान कर रही हैं। उन्होंने कहा उम्मीद है कि जिला दूसरी डोज के शत-प्रतिशत लक्ष्य को जल्द हासिल कर लेगा। उन्होंने कहा कि जिला में जो लोग दूसरी डोज अभी तक नहीं लगवा पाए हैं, उन्हें फोन करके सूचित किया जा रहा है और डोज लगवाने के लिए आग्रह किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि विभाग हर रोज हजारों लोगों को फोन कर रहा है और यह कार्य काफी समय खराब कर देता है।

ये भी पढ़ें-HP पुलिस को मिला राष्ट्रपति कलर अवार्ड, सम्मान पाने वाला आठवां राज्य पुलिस बल

वहीं, लाहुल-स्पीति स्वास्थ्य विभाग की कोरोना वैक्सीनेशन टीमों को तिंदी पंचायत में बुजुर्ग, बीमार व अन्य जो लोग कोरोना वैक्सीन से छूटे है उन लोगों तक पहुंचने में केलांग से घाटी के दुर्गम तिंदी व वहां से वापिस केलांग पहुंचने में 129 किमी सफर करना पड़ा। बुधवार को स्वास्थ्य विभाग के वैक्सीन टीम को उदयपुर उपमंडल के अंतर्गत सड़क से अनछुए गांव कुरचेड़ तक कदमताल कर पहुंचने में नौ किमी का सफर तय करने में तीन घंटे का समय लगा। मंगलवार को लाहुल-स्पीति जिला के स्पीति वैक्सीन टीम ने विश्व के सबसे ऊंचे पोलिंग स्टेशन गांव टशीगंग में माइनस तापमान के बीच कोरोना वैक्सीन के दूसरी डोज लगाने में शत-प्रतिशत लक्ष्य पूरा किया। लाहुल-स्पीति स्वास्थ्य विभाग की वैक्सीन टीम की हर तरफ प्रशंसा हो रही है। यहां के वैक्सीन टीम को देर रात तक माइनस तापमान के बीच अपने कार्यों को अंजाम देते देखा जा रहा है।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है