Covid-19 Update

3,12, 174
मामले (हिमाचल)
3, 07, 798
मरीज ठीक हुए
4189
मौत
44, 579, 088
मामले (भारत)
621, 406, 269
मामले (दुनिया)

बिक्रम सिंह बोले, हिमाचल में लगेंगे 389 उद्योग, 3064 युवाओं को मिलेगी रोज़गार

1120.78 लाख रुपए होंगे खर्च, हिमाचल प्रदेश खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड की 237वीं बैठक में दी जानकारी

बिक्रम सिंह बोले, हिमाचल में लगेंगे 389 उद्योग, 3064 युवाओं को मिलेगी रोज़गार

- Advertisement -

शिमला। उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह (Industries Minister Bikram Singh) ने कहा कि प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के अंतर्गत प्रदेश में 1120.78 लाख रुपए लागत की 389 इकाइयां स्वीकृत की गई हैं, जिनके माध्यम से लगभग 3064 युवाओं को रोज़गार (Jobs) के अवसर प्राप्त होगें। उद्योग मंत्री आज यहां हिमाचल प्रदेश खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड की 237वीं बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि खादी ग्रामोद्योग (Khadi Village Industries) की इकाइयों द्वारा करोड़ों रुपए के विभिन्न प्रकार के उत्पादों का उत्पादन तथा विपणन किया जा रहा है, जिसके फलस्वरूप हजारों लोगों को उनके घरद्धार के निकट रोजगार के अवसर उपलब्ध करवाए जा रहे हैं। उद्योग मंत्री ने कहा कि बोर्ड द्वारा जनजातीय क्षेत्रों में 13 ऊन पिंजाई संयंत्र (Wool Cage Plant) स्थापित किए गए हैं, जिनके माध्यम से 2428 भेड़ पालकों को 20446 किलोग्राम ऊन पिंजाई, 7880 किलोग्राम तेल पिराई व 436 वस्तुओं तथा 5653 मीटर फिनिशिंग की सुविधा प्रदान की गई है। प्रदेश सरकार द्वारा खादी ग्रामोद्योग बोर्ड, कौशल विकास निगम (skill development corporation), औद्योगिक प्रशिक्षण केंद्रों के माध्यम से बेरोजगार युवाओें को रोजगारपरक बनाने के लिए कौशल विकास प्रशिक्षण का संचालन किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें:Job In Himachal: हिमाचल में यहां इंटरव्यू से सीधी मिल रही नौकरी, 150 बेरोजगारों को मिलेगी जॉब

 

5.94 लाख रुपए प्रतिमाह होंगे व्यय

उन्होंने कहा कि बोर्ड ग्रामीण क्षेत्रों में सूक्ष्म उद्योगों के माध्यम से बेरोजगार युवाओं और बुनकरों के लिए रोजगार के अवसर सृजित करने के साथ-साथ जनजातीय क्षेत्रों के लोगों को ऊन पिंजाईए तेल पिराई व फिनिशिंग की सुविधा (Finishing Facility) प्रदान कर रहा है। उन्होंने कहा कि बोर्ड प्रदेश में ग्राम स्वरोज़गार की विचारधारा को मूर्त रूप प्रदान कर रहा है। उद्योग मंत्री ने कहा कि बोर्ड के कर्मचारियों को संशोधित वेतनमान प्रदान करने के लिए अनुमानित 5.94 लाख रुपए प्रतिमाह व्यय किए जाएंगे। उन्होंने अधिकारियों को बोर्ड के सुचारू क्रियान्वयन सुनिश्चित करने के लिए शीघ्र ही रिक्त पदों को भरने के निर्देश दिए। बैठक में बोर्ड के उपाध्यक्ष पुरुषोतम गुलेरिया, विशेष सचिव उद्योग सीपी वर्मा, अतिरिक्त नियंत्रक भंडार, किरन भंडाना, सीईओ एमआर भारद्वाज सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें:हिमाचल बजट: मछुआरों को दिए जाएंगे थ्री व्हीलर-बाइकें और नावें, 500 युवाओं को मिलेगा रोजगार

 

96 लाख रुपए का लाभ किया अर्जित

उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह ने आज यहां हिमाचल प्रदेश राज्य हस्तशिल्प एवं हथकरघा निगम (Handicrafts and Handloom Corporation) की 188वीं बैठक की अध्यक्षता करते हुए निगम द्वारा कोरोना महामारी के बावजूद वर्ष 2020-21 के दौरान लगभग 96 लाख रुपए का लाभ अर्जित करने के लिए निगम की सराहना की। उन्होंने कहा कि नई दिल्ली स्थित हिमाचल इम्पोरियम के जीर्णोद्धार के मामले को शीघ्र प्रदेश सरकार के समक्ष उठाया जाएगा। उन्होंने कहा कि केंद्रीय वाणिज्य, उद्योग, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने अपने कुल्लू प्रवास के दौरान वीवर सर्विस सेंटर खोलने की घोषणा की थी, जिसके लिए शीघ्र उपयुक्त भूमि चयनित की जाएगी। बैठक में हिमाचल प्रदेश राज्य हस्तशिल्प एवं हथकरघा निगम की प्रबंध निदेशक कुमुद सिंह ने उद्योग मंत्री तथा अन्य गणमान्यों का स्वागत किया। विशेष सचिव उद्योग सीपी वर्मा, महाप्रबंधक हिमाचल प्रदेश राज्य हस्तशिल्प एवं हथकरघा निगम योगेश गुप्ता सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी बैठक में उपस्थित थे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है