Covid-19 Update

2,01,210
मामले (हिमाचल)
1,95,611
मरीज ठीक हुए
3,447
मौत
30,134,445
मामले (भारत)
180,776,268
मामले (दुनिया)
×

Himachal Cabinet: चालक सहित ये पद भरने को मिली मंजूरी

Himachal Cabinet: चालक सहित ये पद भरने को मिली मंजूरी

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल कैबिनेट (Himachal Cabinet) की बैठक सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) की अध्यक्षता में संपन्न हुई। कैबिनेट ने एक तरफ कोरोना के चलते कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) को 31 मई तक बढ़ा दिया है। वहीं, रोजगार के भी अवसर प्रदान किए हैं। कैबिनेट ने कृषि विभाग में चालक के 20 पद भरने को मंजूरी प्रदान की है। इन पदों के भरे जाने से कृषि विभाग में चालकों की कमी दूर होगी। इसके अलावा नई बनाई नगर निगम सोलन (Solan), मंडी व पालमपुर में भी विभिन्न पदों को भरने की स्वीकृति प्रदान की है। इन नगर निगम में 33 पद भरे जाएंगे। प्रत्येक नगर निगम में 11-11 विभिन्न श्रेणियों के पद भरने को मंजूरी दी है। यह पद भरने से नई नगर निगम में स्टाफ की कमी पूरी होगी।

यह भी पढ़ें :- HP Cabinet: हिमाचल में कब तक बढ़ा कोरोना कर्फ्यू, जानने को पढ़ें खबर

शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कैबिनेट के फैसलों की जानकारी देते हुए बताया कि कैबिनेट ने नई एक्साइज पॉलिसी (New Excise Policy) और टोल बैरियर पॉलिसी को भी मंजूरी प्रदान की है। इसकी विस्तृत डिटेल बाद में जारी की जाएगी। इसके अलावा कैबिनेट ने मेडिकल कॉलेजों में एसोसिएट और असिस्टेंट प्रोफेसर के 34 खाली पद भरने को भी मंजूरी दी है। यह पद सीधी भर्ती के माध्यम से भरे जाएंगे। इसके अतिरिक्त आईजीएमसी शिमला में असिस्टेंट प्रोफेसर रुमेटोलॉजी सेल (Rheumatology Cell) का एक पद, आईजीएमसी और टांडा में प्रोफेसर, असिस्टेंट, एसोसिएट प्रोफेसर नेफ्रोलॉजी (Nephrology) के पांच पद भरने की मंजूरी दी है। टांडा मेडिकल कॉलेज में चार करोड़ 28 लाख की लागत 128 स्लाइस वाली सिटी स्कैन मशीन खरीदने की भी मंजूरी दी है। कांगड़ा जिले के सिविल अस्पताल देहरा में डॉक्टरों की संख्या मौजूदा 9 से बढ़ाकर 14 करने का भी निर्णय लिया गया।


कैबिनेट ने भू अधिनियम की धारा 1972 के नियम में बदलाव किया है। इनके तहत चाय के बागानों के खरीद-फरोख्त आदि में नए नियमों के तहत अब बदलाव किए जाएंगे। चाय बागवानों के लिए इस नियम में प्रावधान थे कि प्रदेश में जितने भी चाय बागान है, उनको किसी बाहरी व्यक्ति को बेचने की अनुमति नहीं थी। चाय बागानों के मालिक हिमाचल में लैंड सीलिंग एक्ट के प्रावधानों के तहत अधिकतम सीमा से ज्यादा जमीन रख सकते थे, लेकिन अब इसमें बदलाव किया जाएगा।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है