Covid-19 Update

1,42,510
मामले (हिमाचल)
1,04,355
मरीज ठीक हुए
2039
मौत
23,340,938
मामले (भारत)
160,334,125
मामले (दुनिया)
×

हिमाचल कांग्रेस के नए प्रभारी Shukla आ रहे हैं शिमला, शॉल-टोपी को है मनाही

24 व 25 को दो दिनों तक पदाधिकारियों से करेंगे चर्चा

हिमाचल कांग्रेस के नए प्रभारी Shukla आ रहे हैं शिमला, शॉल-टोपी को है मनाही

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के नवनियुक्त प्रभारी (Newly appointed in-charge of Himachal Congress) राजीव शुक्ला 24 सितंबर को दो दिवसीय दौरे पर शिमला आ रहें है। इस दौरान 24 को हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्षों, महासचिवों, स्थाई आमंत्रित सदस्यों, पूर्व प्रदेश अध्यक्षों,विधायकों, जिला अध्यक्षों, ब्लॉक अध्यक्षों के साथ-साथ अग्रणी संगठनों के प्रमुखों के साथ एक बैठक में शामिल होंगे। 25 सितंबर को शुक्ला (Rajeev Shukla) प्रदेश कांग्रेस सचिवों, कार्यकारिणी के सदस्यों, पार्टी प्रवक्ताओं व कांग्रेस पार्टी के विभागों के अध्यक्षों के साथ पार्टी कार्यालय राजीव भवन में एक बैठक करेंगे। पार्टी प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर (Kuldeep Singh Rathore) ने बताया कि राजीव शुक्ला प्रदेश कांग्रेस मामलों के प्रभारी बनने के बाद पहलीं बार शिमला (Shimla) आ रहें है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के चलते कोई ज्यादा भीड़ भड़ाका ना हो सोशल डिस्टसिंग को ध्यान में रखते हुए उनके इस कार्यक्रम को अति साधारण व सीमित रखा गया है। राठौर ने कहा कि उन्होंने पार्टी नेताओं व सभी पदाधिकारियों से आग्रह किया है कि वह उनके इस कार्यक्रम में स्वागत में फूल या अन्य शॉल-टोपी (Shawls or Caps) ना लाए,क्योंकि इससे सोशल डिस्टेसिंग की अवहेलना होती है। राठौर ने ये बात आज पत्रकारों से बातचीत में कही।


यह भी पढ़ें: तकनीकी विवि में द्वितीय, चतुर्थ और छठे समेस्टर के छात्रों को किया जाएगा Promote

राठौर ने केंद्र सरकार द्वारा कृषि से संबंधित दो विधेयक पारित करने की आलोचना (Criticized the passing of two bills) करते हुए कहा है कि यह देश के छोटे व मझोले किसानों की कमर तोड़ देगा। उन्होंने कहा कि इस बिल से जमाखोरी व कालाबजारी बढ़ेगी और किसानों को शोषण होगा। राठौर ने कहा कि इस बिल के पारित होने से साफ हो गया है कि केंद्र की मोदी सरकार (Modi government) किसान विरोधी है। उन्होंने कहा कि देश का किसान इसका विरोध कर रहा है। उन्होंने कहा कि किसानों को उनकी फसल का उचित दाम मिले, इसके लिए कांग्रेस ने देश मे मंडी मध्यस्थ योजना को शुरू किया था। इससे किसानों को उनकी उपज का सही दाम मिलता था। उन्होंने कहा कि सरकार ने अब इन किसानों को पूंजीपतियों के हवाले कर दिया है और उन्हें मजबूरी में इन्हें अपनी फ़सल बेचनी पड़ेगी। राठौर ने कहा कि देश के किसानों को आत्मनिर्भर बनाने का सपना दिखाने वाली मोदी सरकार ने अपना एक और तानाशाही फैसला किसानों (Farmers) पर थोप दिया है।उन्होंने कहा कि कांग्रेस किसानों के साथ खड़ी है और उनके साथ कोई भी अन्याय सहन नहीं होगा।

 


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है