हिमाचल हाईकोर्ट ने प्रदेश सरकार, एचपीयू और वीसी सिकंदर कुमार को जारी किया नोटिस

एचपीयू वीसी डॉ. सिकंदर की नियुक्ति मामले की सुनवाई में हाईकोर्ट ने दिए आदेश

हिमाचल हाईकोर्ट ने प्रदेश सरकार, एचपीयू और वीसी सिकंदर कुमार को जारी किया नोटिस

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय के वीसी डॉ. सिकंदर कुमार की नियुक्ति पर उठे घमासान पर आज हिमाचल हाईकोर्ट (Himachal High Court) ने बड़ा फैसला किया है। हिमाचल हाईकोर्ट ने एचपीयू (HPU) के कुलपति की नियुक्ति के मामले में प्रदेश सरकार, एचपीयू प्रशासन और वीसी को नोटिस जारी किया है। एचपीयू वीसी डॉ. सिकंदर की नियुक्ति को सही ठहराने वाले एकल पीठ के फैसले को खंडपीठ में दी गई चुनौती के मामले पर आज शुक्रवार को सुनवाई हुई। कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश रवि मलिमठ और न्यायाधीश ज्योत्सना रेवाल की खंडपीठ ने धर्मपाल ठाकुर की अपील पर सुनवाई करते हुए नोटिस जारी करते हुए जवाब तलब किया है। मामले की अगली सुनवाई दो सप्ताह बाद होगी।


यह भी पढ़ें:हिमाचल हाईकोर्ट की अंतरिम भरण पोषण मामले की टिपण्णी सबको जाननी चाहिए

बता दें कि न्यायाधीश सुरेश्वर ठाकुर ने याची धर्मपाल द्वारा लगाए आरोपों को तथ्यहीन पाते हुए याचिका खारिज कर दी थी। याचिका में आरोप था कि वीसी की नियुक्ति (Appointment) नियमों के विरुद्ध की गई है। याचिका के माध्यम से अदालत को बताया गया था कि प्रतिवादी वीसी को यूजीसी से जारी रेगुलेशन के तहत 19 मार्च, 2011 को प्रोफेसर पद पर पदोन्नत किया था। 29 अगस्त, 2017 को एचपीयू के वीसी के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए। प्रतिवादी ने चयन कमेटी को गुमराह करते हुए अपने आवेदन में अनुभव के बारे में गलत तथ्य दिए। याची ने हाईकोर्ट से गुहार लगाई थी कि प्रतिवादी को आदेश दिए जाएं कि वह एचपीयू के कुलपति की नियुक्ति के लिए अपनी योग्यता अदालत को बताए और यदि उसकी योग्यता यूजीसी के रेगुलेशन के विपरीत पाई जाती है तो नियुक्ति रद्द की जाए। हाईकोर्ट ने याचिका को तथ्यहीन पाते हुए याचिका खारिज कर दी थी।

लवनीश कंवर बने हाई कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष

हाई कोर्ट बार एसोसिएशन (High Court Bar Association) के कुल 1210 मतदाताओं में से 983 मतदाताओं ने अपने मत का प्रयोग किया। कई अधिवक्ता काफी दूर दराज क्षेत्र से भी वोट डालने आये। प्रदेश हाई कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष पद के लिए अधिवक्ता लवनीश कंवर, उपाध्यक्ष पद के लिए अशोक त्यागी और सचिव पद के लिए धीरज ठाकुर को चुना गया। अध्यक्ष पद के लिए त्रिकोणीय मुकाबले में अधिवक्ता लवनीश कंवर को 401, वरिष्ठ अधिवक्ता संजीव भूषण को 339 व दीपक कौशल को 234 मत मिले। उपाध्यक्ष पद के लिए भी त्रिकोणीय मुकाबले में अशोक त्यागी को 494, सत प्रकाश को 252 व सुरेंद्र शर्मा को 232 वोट (Vote) मिले। सचिव पद के लिए धीरज ठाकुर 636 व हेमंत ठाकुर को 338 वोट मिले। हाइकोर्ट बार एसोसिएशन ये चुनाव अधिवक्ता आई एन मेहता की अध्यक्षता में सम्पन्न हुए।

 

 

कोर्ट ने प्रधान सचिव को जबाव तलब

हिमाचल हाईकोर्ट ने सीनियर सेकेंडरी स्कूल मंडी के स्कूल भवन, खेल के मैदान इत्यादि को बर्बाद करने का आरोप लगाने वाली याचिका में मुख्य सचिव, प्रधान सचिव (शिक्षा), उपायुक्त मंडी और उपनिदेशक (उच्च शिक्षा) मंडी को नोटिस जारी किया। कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश रवि मलीमठ और न्यायमूर्ति ज्योत्सना रिवाल दुआ की खंडपीठ ने सीनियर सेकेंडरी स्कूल के छात्र विजय कुमार द्वारा मुख्य न्यायाधीश को संबोधित एक पत्र पर जनहित याचिका के रूप में न्यायालय द्वारा स्वत संज्ञान लेने वाली याचिका पर यह आदेश पारित किए।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

 

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




×
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है