Covid-19 Update

2,16,639
मामले (हिमाचल)
2,11,412
मरीज ठीक हुए
3,631
मौत
33,417,390
मामले (भारत)
228,533,587
मामले (दुनिया)

Lockdown Love: खाना बांटने वाले को भीख मांगने वाली लड़की से हुआ प्यार; शादी कर ली

Lockdown Love: खाना बांटने वाले को भीख मांगने वाली लड़की से हुआ प्यार; शादी कर ली

- Advertisement -

कानपुर। पूरे देश में जारी कोरोना वायरस (Coronavirus) के कहर के बीच सब कुछ ठप पड़ा हुआ है। देश में इस महामारी के प्रसार पर लगाम लगाने के लिए सरकार द्वारा करीब 2 महीने से पूरे देश को लॉकडाउन पर रखा गया है। इस लॉकडाउन के चलते गरीब तबके के लोगों को काफी सारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। जिनकी मदद के लिए सरकार और कई सामाजिक संगठन आगे आ रहे हैं। ये सभी लोग गरीब लोगों की मदद के लिए उन्हें खाने कपडे जैसी कई तरह की सुविधाएं और जरूरी चीजें मुहैया कराने के लिए लगातार कार्य कर रहे हैं। इस सब के बीच उत्तर प्रदेश के कानपुर (Kanpur) जिले से एक बड़ी ही अनोखी लव स्टोरी सामने आई है।

यहां जानें पूरी लव स्टोरी, कैसे हुआ इश्क और फिर शादी

यहां पर फुटपाथ (Footpath) पर खाना बांटने के दौरान एक युवक को भीख मांगकर खाने वाली लड़की से प्यार हो गया और दोनों ने शादी कर ली। इस शादी में कई लोग मौजूद थे। हालांकि इस पूरे समारोह के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग नियमों का पूरी तरह से ख्याल रखा गया था। रिपोर्ट्स के अनुसार लड़की का नाम नीलम है। नीलम के पिता नहीं हैं, मां पैरालिसिस से पीड़ित है। भाई और भाभी ने मारपीट कर घर से भगा दिया था।

यह भी पढ़ें: गांगुली ICC अध्यक्ष के लिए सबसे सही व्यक्ति, उन्हें खेल और चुनौतियों की अच्छी समझ: ग्रीम स्मिथ

नीलम के पास गुजारा करने के लिए कुछ नहीं था। इसलिए वो लॉकडाउन में खाने लेने के लिए फुटपाथ पर भिखारियों के साथ लाइन में बैठती थी। इस दौरान अनिल नामक युवक अपने मालिक के साथ रोज सबको खाना देने आता था। इसी दौरान अनिल को जब नीलम की मजबूरियों का पता चला तो उसे उससे प्यार हो गया। फिर क्या भिखारी की लाइन से निकलकर नीलम सात जन्मों के लिए उसकी हमसफर बन गई।

मोहब्बत को इस तरह शादी के मुकाम तक लाया अनिल का मालिक

अब पूरे शहर में यह शादी चर्चा का विषय बन गई है। बताया गया कि अनिल जिस शख्स के अंदर में काम करता था। उसी ने अनिल के पिता को शादी के लिए राजी किया और दोनों की शादी करा दी। अनिल के मालिक का कहना है कि अनिल खाना बांटने हमारे साथ जाता था फिर उसे उस लड़की से लगाव हो गया। मुझसे इस बारे में अनिल ने चर्चा की तो मैंने इसे रात में भी खाना देने को कहा। फिर अनिल खुद खाना बनाकर देने जाने लगा। इसके बाद मैंने अनिल के पिता को राजी किया फिर दोनों की शादी करवा दी। भगवान की कृपा से दोनों बेटा-बेटी खुश हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है