Covid-19 Update

2,27,195
मामले (हिमाचल)
2,22,513
मरीज ठीक हुए
3,831
मौत
34,587,822
मामले (भारत)
262,656,063
मामले (दुनिया)

 मंत्री महेंद्र सिंह और मार्कंडेय पहुंचे नड्डा के पास, कैबिनेट मंत्रियों की धड़कनें तेज

प्रदेश कार्यसमिति से केंद्रीय नेतृत्व ने मांगी रिपोर्ट

 मंत्री महेंद्र सिंह और मार्कंडेय  पहुंचे नड्डा के पास, कैबिनेट मंत्रियों की धड़कनें तेज

- Advertisement -

नई दिल्ली/ शिमला। हिमाचल (Himachal) में बीजेपी को मिली करारी हार के बाद पार्टी हाईकमान के पास हाजरी लागने का दौर शुरू हो चुका है। प्रदेश बीजेपी प्रभारी अविनाश राय खन्ना के बाद पवन राणा और अब जयराम सरकार के दो कैबिनेट मंत्रियों को दिल्ली दरबार में पेशी के लिए बुलाया गया है। दोनों की मंत्री क्रमश रामलाल मार्कंडेय और महेंद्र सिंह की पेशी पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) के सामने हो रही है।

मंत्रियों को बुलावे का फरमान मिलने के बाद शिमला के सियासी गलियारों में चहलकदमी तेज हो गई हैं। कई मंत्री अपनी कुर्सी की सीट बेल्ट बांध चुके हैं। वहीं, प्रदेश स्तर पर भी हार के कारणों की समीक्षा शुरू हो चुकी है। बता दें कि बीजेपी की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक इसी महीने की 25 तारीख के आस पास होगी। इस बैठक में उपचुनावों में हार को लेकर मंथन होने की पूरी उम्मीद है। उधर, हाईकमान ने भी हार के कारणों को लेकर रिपोर्ट तलब की है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल कांग्रेस में बड़ा बवाल, आलाकमान के निर्णय को जिलाध्यक्ष का ठेंगा

पार्टी प्रदेशाध्यक्ष और मंडल अध्यक्षों को जल्द रिपोर्ट तैयार करने को कहा गया है। जानकार बतातें है कि भितरघातियों की सूची और हार के अन्य कारणों की रिपोर्ट बनाकर हाईकमान को भेजी जाएगी। उसके बाद पार्टी का शीर्ष नेतृत्व सरकार और संगठन में बड़ा उलटफेर कर सकता है। इसके अलावा बागियों, पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल कार्यकर्ताओं और निष्क्रिय पदाधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई भी अमल में लाई जा सकती है।

हाईकमान द्वारा समीक्षा रिपोर्ट तलब करने के आदेशों के बाद अब जुब्बल-कोटखाई, अर्की, फतेहपुर और मंडी के मंडल हार के कारणों की चर्चा कर रिपोर्ट सौंपेंगे। इसके अलावा प्रत्याशियों से भी रिपोर्ट तलब की गई है। इसके लिए नीलम सरइक, रतन पाल सिंह, बलदेव ठाकुर और ब्रिगेडियर खुशाल सिंह अपनी रिपोर्ट पार्टी प्रदेशाध्यक्ष के समक्ष रखेंगे। यह रिपोर्ट प्रदेशाध्यक्ष ही प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में पेश करेंगे। वहीं, मंडी लोकसभा सीट गंवाने पर बीजेपी की चिंता अधिक बढ़ गई है। मंडी लोकसभा सीट गंवाने से बीजेपी की खासी किरकिरी हुई है। महेंद्र सिंह जहां इस सीट के चुनाव प्रभारी थे। वहीं, रामलाल मार्कंडेय के विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी प्रतिभा सिंह को लीड मिली थी। इससे पहले, गुरुवार को महेंद्र सिंह ने कुल्लू में संगठन के नेताओं से मीटिंग की थी और हार के कारणों की समीक्षा की थी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है