Covid-19 Update

3,07, 061
मामले (हिमाचल)
2,99, 605
मरीज ठीक हुए
4162
मौत
44,223,557
मामले (भारत)
593,515,060
मामले (दुनिया)

हिमाचल में खेती करने के लिए जरूरी नहीं है जमीन, जाने इस नई तकनीक के बारे में

मंत्री वीरेंद्र कंवर ने किसान युसूफ खान के फार्म में जानी हाइड्रोपोनिक से खेती करने की विधि

हिमाचल में खेती करने के लिए जरूरी नहीं है जमीन, जाने इस नई तकनीक के बारे में

- Advertisement -

ऊना। हिमाचल प्रदेश में अब खेती करने के लिए जमीन का होना जरूरी नहीं है। खेती कारोबार में नई तकनीकों की दस्तक के बीच हाइड्रोपोनिक (Hydroponic) ने भी जबरदस्त उपस्थिति दर्ज कराई है। इस तकनीक के चलते अब बिना जमीन के भी आप घरेलू से लेकर कमर्शियल तक खेती-बाड़ी कर सकते हैं। और इसी के दम पर आप घर की छत से लेकर कमरे के अंदर भी सब्जियों और फलों का उत्पादन करने में सफलता पा सकते हैं। जिला के विकासशील किसान युसूफ खान (Farmer Yusuf Khan) ने हाइड्रोपोनिक तकनीक का तड़का लगभग कई फलों और सब्जियों की पैदावार में लगाया और इसके सफल ट्रायल सामने आने पर अब इसे खेती कारोबार में कमर्शियल तौर पर अपनाए जाने के लिए भी कसरत शुरू कर दी गई है।

यह भी पढ़ें- हिमाचल में जमकर बरसे मेघ, 17 साल का टूटा रिकार्ड- 28 तक रहेगा मौसम खराब

सोमवार को विकासशील किसान युसूफ खान के नंगल सलांगड़ी स्थित फार्म का दौरा हिमाचल प्रदेश के कृषि मंत्री वीरेंद्र कंवर (Virendra Kanwar) ने किया। विशेष रूप से हाइड्रोपोनिक तकनीक को समझने और जानने के लिए फार्म में पहुंचे कृषि मंत्री ने इसके सफलतम प्रयोगों पर खुशी जाहिर की। उन्होंने कहा कि इस फार्म में हाइड्रोपोनिक तकनीक के घरेलू से लेकर कमर्शियल तक सभी ट्रायल सफल रहे हैं। इस तकनीक के दम पर अब लोगों को घरेलू और व्यवसायिक खेती कारोबार में काफी मदद मिलने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सरकार हाइड्रोपोनिक तकनीक को खेती कारोबार में प्रमुख रूप से जोड़ने के लिए हर संभव प्रयास करेगी।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है