Covid-19 Update

2,16,813
मामले (हिमाचल)
2,11,554
मरीज ठीक हुए
3,633
मौत
33,437,535
मामले (भारत)
228,638,789
मामले (दुनिया)

मानसून सत्र, विधायक निधि और Covid Fund पर मुकेश ने घेरी सरकार, क्या बोले- जानिए

मानसून सत्र, विधायक निधि और Covid Fund पर मुकेश ने घेरी सरकार, क्या बोले- जानिए

- Advertisement -

शिमला। नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री (Leader of Opposition Mukesh Agnihotri) ने विधानसभा के मानसून सत्र, विधायक निधि और कोविड फंड (Covid Fund) पर जयराम सरकार को घेरा है। यहां मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि मानसून सत्र (Monsoon Session) होना चाहिए। अगर सरकार सैकड़ों लोगों को इकट्ठा कर यज्ञ करवा सकती है तो विधानसभा (Vidhansabha) का सत्र क्यों नहीं बुलाया जा सकता है। कोरोना की आड़ में सत्र को लटकाने की कोशिश की जा रही है। यह इसलिए किया जा रहा है कि सरकार को मुद्दों का जवाब ना देना पड़े। कोरोना (Corona) काल के दौरान के जनता के कई ऐसे सवाल हैं जो हाउस में ही पूछे जाएंगे। सरकार से पूछे जाने वाले सवालों की फेहरिस्त काफी लंबी है। कांग्रेस (Congress) ने स्पीकर को भी सत्र बुलाए जाने को लेकर लिखकर दिया है।

 

सरकार कैबिनेट बैठकों में कर रही फिजूलखर्ची भरे ऐलान

नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि विधायक निधि (MLA Fund) सरकार को तत्काल प्रभाव से बहाल करनी चाहिए। यह मांग कांग्रेस के विधायकों ही नहीं बीजेपी के विधायकों की भी है। कुछ दिन पहले बीजेपी (BJP) विधायक दल की बैठक में भी बीजेपी विधायकों ने यह मुद्दा उठाया था। उन्होंने कहा कि सरकार कैबिनेट की बैठकों में फिजूलखर्ची भरे ऐलान कर रही है। नए चेयरमैन बनाए जा रहे हैं, नए संस्थान खोले जा रहे हैं और नए पद सृजित किए जा रहे हैं। सरकार ने ह्यूमन राइट में भारी भरकम पोस्ट मंजूर की हैं। सरकार हर काम कर रही है और विधायकों का पैसा छीन रहे हैं। यह सही नहीं है। उन्होंने तो यहां तक कह डाला कि विधायक निधि को लेकर सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने राजनीति चाबुल चलाया है।

ये भी पढ़ें: मुकेश का Jai Ram से सवाल- 20 लाख करोड़ के पैकेज में Himachal को कितना मिल रहा

 

कोविड फंड से खरीदी 200 किलो हल्दी और 200 किलो मिर्च

मुकेश ने कहा कि सोलन (Solan) में खरीदी जमीन आगे बेच दी जाती है तो ऐसे में बीजेपी क्या सरकार चलाएंगी। इनसे अपना घर नहीं संभल रहा है तो कोविड की बात तो दूर की है। कोविड फंड की चर्चा हो रही है। उन्हें किसी ने आरटीआई दिखाई उसमें एक विधानसभा क्षेत्र में 200 किलो हल्दी और 200 किलो मिर्च खरीदी गई थी। सरकार लोगों को खाना खिला रही थी कि कोई यज्ञ के लिए सामग्री खरीदी जा रही थी। उन्होंने कहा कि लोगों ने कोविड फंड में पैसे दिए हैं। इन पैसों का इस्तेमाल सही तरीके से हो। साथ ही इस बात की भी जांच करवाई जाए कि किन लोगों ने कोविड फंड के नाम पर पैसा इकट्ठा किया है।

ये भी पढ़ें: मुकेश बोले- GVK कंपनी पर दर्ज हो मामला, सत्ती के बयान पर चुटकी

हिमाचल में अपने फार्म हाउस में पहुंच गए प्रभावशाली लोग

नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि सरकार कोरोना काल में कोई टिकाउ नीति नहीं बना पाई है। हर रोज फैसलों पर यू टर्न ले रही है। उन्होंने कहा कि बागवानी के लिए लोग एडवांस में बुलाए जा सकते थे और उनके टेस्ट करवाए जा सकते थे। उन्होंने कहा कि हिमाचलियों ने तो प्रदेश में आना ही है। लेकिन सरकार टूरिज्म (Tourism) के बहाने लोगों को बुला रही है। सरकार कोरोना टूरिज्म चलाना चाहती है, जैसा ही सरकार ने पहले ही जाहिर कर दिया था। उन्होंने कहा कि कई प्रभावशाली लोग हिमाचल में अपने फार्म हाउस में पहुंच गए। उन्हें किसी ने नहीं रोका। जिन्होंने यहां मकान बनाए हैं वह भी यहां पहुंच गए हैं। जिसने पहुंचना था वह पहुंच गया, सरकार अपनी नीतियों को बदलती रहे। उन्होंने कहा कि सरकार मंदिरों को खोल नहीं रही है और सैकड़ों लोगों को इकट्ठा कर यज्ञ करवा रही है। उसमें नियमों की अनदेखी की जा रही है। सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) व मास्क आदि का कोई ख्याल नहीं रखा जा रहा है। जयराम सरकार पहले दिन से ही कोरोना को लेकर खिलवाड़ कर रही है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group..

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है