Covid-19 Update

2,22,890
मामले (हिमाचल)
2,17,495
मरीज ठीक हुए
3,721
मौत
34,200,957
मामले (भारत)
244,634,716
मामले (दुनिया)

3 दिन से बंद है NH-5:किन्नौर का शिमला से कटा संपर्क, यातायात बहाल करने में विभाग की फूल रही सांसे

दिनों से जाम में फसे यात्रियों का बुरा हाल, खाने पीने की दिक्कत भी शुरू

3 दिन से बंद है NH-5:किन्नौर का शिमला से कटा संपर्क, यातायात बहाल करने में विभाग की फूल रही सांसे

- Advertisement -

शिमला। नेशनल हाईवे पांच बीते 3 रोज से बंद है। जिसके चलते जनजातीय क्षेत्र किन्नौर का राजधानी समेत राज्य के अन्य जिलों से सीधा संपर्क टूट चुका है। वहीं, हाईवे नहीं खुलने से जाम में फंसे यात्री बेहाल हो गए हैं, उन्हें अब तो खाने पीने की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। यात्री रोड़ खुलने के इंतजार में सड़क किनारे बैठ गए हैं।

यह भी पढ़ें:हिमाचल में बारिश का कहरः मंडी-पठानकोट एनएच पर घट्टा के पास चलती कार पर गिरा पेड़
एक इंच भी नहीं हिली चट्टान

यात्रियों ने कहा कि कहा कि उन्हें शिमला की तरफ जाना है, लेकिन रास्ता नहीं खुलने की वजह से वह यहां फंस गए हैं। वहीं, कुछ यात्री ऐसे भी थे, जिन्हें किन्नौर जाना था। लेकिन, वह यहां बुरी तरह फंसे हुए हैं। मालूम हो कि बुधवार रात को एनएच 5 पर चोरा के समीप पहाड़ी से बड़ी चट्टान आ गिरी थी। जिससे कि यातायात पूरी तरह से ठप हो गया। चट्टान को काटने के लिए नेशनल हाईवे अथॉरिटी की ओर से ड्रिलिंग मशीन का भी प्रबंध किया गया, जो पत्थर में छेदकर बारूद से उसे तोड़ेगी, लेकिन चट्टान इतनी बड़ी है, कि इसे हटाने में काफी ही विभाग को समय लग रहा है। वहीं, जेसीबी की मदद से भी पत्थर को भी हटाने की कोशिश की गई, लेकिन चट्टान एक इंच तक नहीं खिसकी।

यह भी पढ़ें:हिमाचल में तेज बारिश के बीच कार के साथ बह गया व्यवसायी, लोगों ने बचाया

फल लदे वाहनों से हो रहा यात्रियों का गुजारा

जो यात्री बीते तीन दिनों से जाम में फंसे हैं। वह किन्नौर के लिए सब्जी और फल लेकर जा रही वाहनों से फल खरीद कर गुजारा कर रहे हैं। आलम तो यह है कि प्रशासन भी उदासीन बना हुआ है। यात्रियों के लिए प्रशासन ने किसी तरह का कोई प्रबंध नहीं किया है। ऐसे में लोगों को खुद ही अपने खाने-पीने का प्रबंध करना पड़ रहा है। मजदूरी करने वाले मजदूरों को भी खासी परेशानी हो रही है।

रोड किनारे खोलें होटलों काम बढ़ गया कारोबार

3 दिन से नेशनल हाईवे 5 के बंद होने के चलते लोग यहां से निकल नहीं पाए हैं, ऐसे में खाने पीने के लिए उन्हें सड़क किनारे खुले ढाबों और होटलों का सहारा लेना पड़ रहा है। ऐसे में यहां पर खोले गए ढाबे और होटलों का व्यापार भी एकाएक पिछले 3 दिनों में बढ़ गया है। वहीं, अभी हाईवे के खुलने में समय लग सकता है, हालांकि अधिकारियों का कहना है कि शाम तक इसे बहाल कर दिया जाएगा, लेकिन चट्टान को हटाने में अभी और समय लगने की उम्मीद है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है