Covid-19 Update

2, 85, 012
मामले (हिमाचल)
2, 80, 818
मरीज ठीक हुए
4117*
मौत
43,138,393
मामले (भारत)
527,842,668
मामले (दुनिया)

हिमाचल:  अब इन कर्मचारियों की धमकी, 25 जनवरी से पहले बनाओ स्थायी पॉलिसी

स्वास्थ्य विभाग के राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन अनुबंध कर्मचारियों ने दिया अल्टीमेटम

हिमाचल:  अब इन कर्मचारियों की धमकी, 25 जनवरी से पहले बनाओ स्थायी पॉलिसी

- Advertisement -

कुल्लू। प्रदेशभर में कर्मचारियों ने जयराम सरकार (Jairam Thakur) के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। पुलिस (Police) और शिक्षा विभाग के बाद अब स्वास्थ्य विभाग के राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन  अनुबंध कर्मचारियों ने  प्रदेश सरकार को 25 जनवरी तक का अल्टीमेटम दिया है। इन कर्मचारियों ने चेतावनी देते हुए कहा कि सरकार राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (NHM) अनुंबध कर्मचारियों के लिए स्थायी पॉलिसी लागू कर भविष्य को सुरक्षित करें। स्वास्थ्य विभाग में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन अनुंबध 1600 कर्मचारी पिछले 20 से 23 सालों से विभिन्न स्वास्थ्य संस्थानों में सेवाएं दे रहे है।

यह भी पढ़ें:धर्मशाला में सीएम वापस जाओ के नारे, लोगों ने किया विरोध

सभी कर्मचारियों (Employees) ने प्रदेश सरकार पर शोषण का आरोप लगाया है। ऐसे में कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल कर जल्द पॉलिसी (Policy) लागू करने की मांग की। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन अनुंबध कर्मचारी संघ कुल्लू ब्लॉक के अध्यक्ष हेम राज शर्मा ने कहा कि राज्य कार्यकारिणी द्वारा  5 जनवरी को सरकार को ज्ञापन दिया है, उसी की तर्ज कुल्लू (Kullu) जिला में उपायुक्त कुल्लू के माध्यम से सीएम को ज्ञापन दिया है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन में 23 सालों से प्रदेश के 1600 कर्मचारियों कार्यरत है,  लेकिन किसी भी सरकार द्वारा नियमित पॉलिसी कर्मचारियों के हित में नहीं बनाई है।

यह भी पढ़ें: हिमाचलः सरकार को सीधी धमकी, मान जाओ नहीं तो भुगतोगे

कर्मचारी बार-बार सरकार से स्थायी पॉलिसी लागू करने की मांग कर रहे है। उन्होंने कहा कि  सरकार 25 जनवरी तक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन अनुंबध कर्मचारी के हित में सकारत्मक निर्णय नहीं लिया तो पूरे प्रदेश में दो फरवरी से सभी कर्मचारी सांकेतिक काम छोड़ो हड़ताल (Signal Quit Work Strike) करेंगे। उन्होंने कहा कि उसके बाद भी सरकार ने सकारात्मकता नहीं दिखाई तो यह आंदोलन जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार ने 2016 में एक नोटिफिकेशन निकाली थीए  जिसमें आईजीएमसी (IGMC),  मेडिकल कॉलेज टांडा, सोलन शिमला में हमारे साथ के कर्मचारियों को रेगुलर पे स्केल दिया गया, लेकिन हमारे साथ अछूता व्यवहार किया गया।

यह भी पढ़ें: हिमाचलः 132 शिक्षक हुए रेगुलर, स्कूल मुख्याध्यापकों को दिए निर्देश

स्वास्थ्य विभाग ने राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन अनुंबध कर्मचारियों के हित में कोई निर्णय नहीं लिया गया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने 2017 में प्रदेश सरकार को लैटर लिखा था कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन अनुंबध कर्मचारियों के लिए पॉलिसी निर्माण कर रेगुलर कर्मचारियों । उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन अनुंबध कर्मचारी संघ ने सीएम (CM) जयराम ठाकुर को ज्ञापन भेजकर जल्द स्थायी पॉलिसी लागू करने की मांग की है। सरकार ने कर्मचारियों के हित में कोई निर्णय नहीं लिया तो सड़कों पर आंदोलन होगा।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है