Covid-19 Update

2,22,569
मामले (हिमाचल)
2,17,256
मरीज ठीक हुए
3,719
मौत
34,175,468
मामले (भारत)
244,201,371
मामले (दुनिया)

तीन साल में लाहुल स्पीति में एक भी रेप केस नहीं, शिमला में सबसे ज्यादा मामले दर्ज

रामलाल ठाकुर के सवाल पर सरकार ने दिय जवाब

तीन साल में लाहुल स्पीति में एक भी रेप केस नहीं, शिमला में सबसे ज्यादा मामले दर्ज

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल के शीत मरुस्थल कहे जाने वाले लाहुल-स्पीति (Lahaul Spiti) में तीन साल में एक भी बलात्कार की घटना नहीं हुई है। यह हिमाचल (Himachal) के लाहुल स्पीति जिला के लिए एक नया रिकॉर्ड है, जबकि हिमाचल का शिमला जिला तीन साल की अवधी में बलात्कार (Rape) के मामलों में सबसे ऊपर है। इसके अलावा किन्नौर जिला में इसी समयावधि के दौरान 24 रेप के मामले दर्ज हुए हैं। यह आंकड़े 1 फरवरी 2018 से 31 जनवरी 2021 के हैं।

1 फरवरी 2018 से 31 जनवरी 2021 के आंकड़े

उक्त समय के दौरान लाहुल-स्पीति जिला में एक भी मामला दर्ज नहीं हुआ है। इसके अलावा शिमला में सबसे ज्यादा 161 मामले दर्ज हुए हैं। रामलाल ठाकुर के सवाल पर लिखित जवाब में बताया गया कि छेड़छाड़ के सबसे अधिक मामले मंडी में आए. यहां महिलाओं से छेड़छाड़ के 317 केस दर्ज हुए. लाहौल स्पीति में बलात्कार का कोई भी मामला नहीं है।

ये भी पढ़ें – मिरेकल विलेज है दुनिया में बलात्कारियों का गांव, सभी के सभी हैं रेपिस्ट, लेकिन आत्मनिर्भर

इसके अलावा तीन साल में महिलाओं से छेड़छाड़ की 1801 और बलात्कार (Rape) की 1048 घटनाएं थाने में हुई हैं। ब्लात्कार के सबसे अधिक मामले शिमला जिला में सामने आए हैं। यहां 161 केस दर्ज हुए हैं। विधानसभा बजट सत्र के दौरान लिखित जवाब में यह जानकारी दी गई है। कांग्रेस विधायक रामलाल ठाकुर (Ram Lal Thakur) के सवाल पर लिखित जवाब में बताया गया कि छेड़छाड़ के सबसे अधिक मामले मंडी (Mandi) में आए। यहां महिलाओं से छेड़छाड़ के 317 केस दर्ज हुए। लाहुल-स्पीति में बलात्कार का कोई भी मामला नहीं है।

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है