Covid-19 Update

2, 85, 010
मामले (हिमाचल)
2, 80, 811
मरीज ठीक हुए
4117*
मौत
43,138,393
मामले (भारत)
527,715,878
मामले (दुनिया)

यहां जानिए दुनिया के ऐसे रहस्य, जिन्हें सुलझा पाना आज भी टेढ़ी खीर

हमारी दुनिया रहस्यों से भरी हुई दुनिया है

यहां जानिए दुनिया के ऐसे रहस्य, जिन्हें सुलझा पाना आज भी टेढ़ी खीर

- Advertisement -

दुनिया (World) की ऐसी बहुत सी जगहें है जिनके रहस्य को सुलझा पाना आज भी टेढ़ी खीर बना हुआ है। चाहे वो अटलांटिक महासागर (Atlantic Ocean) का बरमूडा ट्राएंगल हो या फिर मिस्त्र के पिरामिड। बरमूडा ट्राएंगल के ऊपर या फिर पानी में जो भी जहाज गया, वो रहस्यमयी तरीके से गायब हो गया। यहां तक चांद (Moon) पर पहुंचे इंसान के लिए भी एक रहस्य बना हुआ है। चांद पर हवा ना होने पर भी वहां पर लगाया गया फलैग लहरा रहा था। कुछ ऐसी रहस्यमयी घटनाओं को लेकर आज हम आपके पास आए हैं…

यह भी पढ़ें:ऐसी रहस्यमयी घाटी जिसको आज तक नहीं खोज पाया कोई, यहां ठहर जाता है समय

अज्ञात यूएफओ

यूएफओ (UFO) आकाश में उड़ती एक अज्ञात वस्तु। कई चश्मदीद गवाहों के अनुसार इन अज्ञात उड़ती वस्तुओं के बाहरी आवरण पर तेज़ प्रकाश होता है। उड़न तश्तरीयों के अस्तित्व को आधिकारिक तौर पर दुनिया भर की अधिकांश सरकारों द्वारा मान्यता प्राप्त नहीं है, लेकिन कुछ गवाह उड़न तश्तरीयों के देखे जाने का दावा करते हैं। एरिया 51 एक सैन्य अड्डे का उपनाम है जो पश्चिमी संयुक्त राज्य अमेरिका (America) में नेवादा के दक्षिण में स्थित है। माना जाता है कि इस क्षेत्र में एलियंस और अज्ञात उड़न वस्तुओं जैसी चीज़ों को देखा जा चुका है।

हिमालय का जादू

हिमालय की पहाड़ियों के पास और लद्दाख (Ladakh) की वादियों में एक ऐसी जगह है, जहां अगर आपने गाड़ी खड़ी कर दी तो वो अपने आप ही पीछे को खिंची चली आती है । लोग इसे हिमालय का जादू कहकर बुलाते हैं।

तिब्बत का येति

ये अजीब दिखने वाला जीव, बंदर की तरह जरूर दिखाई दे रहा है, लेकिन इसे नेपाल (Nepal) और तिब्बत में येति कहा जाता है, जो नेपाल के शेरपा से लिया गया है। जिसका मतलब है, चट्टानों का जीव। ये बंदर जैसा दिखने वाला जीव मानव की तरह दिखता है, जो तिब्बत (Tibet) और नेपाल के कुछ हिस्सों में इसे देखा गया है। येती यानी हिममानव पर कई फिल्में और सीरियल भी बन चुके हैं।

चांद पर इंसान के पहुंचने का रहस्य

यूं तो हम सभी जानते हैं कि मनुष्य चांद पर भी अपने कदम रख चुका है, पर क्या वाकई यह भी एक पहेली है। कुछ वैज्ञानिकों (Scientists) और शोधकर्ताओं का मानना है कि इंसान कभी चांद पर गया ही नहीं, यह धरती पर ही बनाई गई एक फिल्म थी, क्योंकि चांद पर वायु ना होने के बावजूद चांद की सतह पर लगाया गया ध्वज (Flag) लहरा रहा था।

बरमूडा ट्रएंगल

बरमूडा ट्राएंगल (Bermuda Triangle) अटलांटिक महासागर का वो भाग है, जिसे मौत का त्रिकोण और डेविल्‍स ट्राएंगल भी कहा जाता है। माना जाता है कि यह एक रहस्यमयी जलक्षेत्र है, जिसकी गुत्थी आज तक कोई नहीं सुलझा सका है। यहां अब तक हजारों की संख्या में विमान, पानी के जहाज और व्यक्ति गए और संदिग्‍ध रूप से लापता हो गए और लाख कोशिशों के बाद भी उनका पता नहीं लगाया जा सका है।

आसमान से दिख जाती है लाइन्स की श्रृंख्ला

नेज़का लाइन्स दक्षिणी पेरु (Nezca Lines Southern Peru) की धरती पर बनी एक लाइन्स की ऐसी श्रंखला है, जिन्हें सिर्फ आसमान से देखा जा सकता है। जी हां! दूर-दूर तक फैली इन लाइनों से कई जानवरों जैसे मकड़ी, बंदर, मछलीए शार्क और छिपकली की आकृतियां बनी है।

मिस्र के पिरामिड

मिस्र (Egypt) के पिरामिड वहां के तत्कालीन फैरो यसम्राटद्ध गणों के लिए बनाए गए स्मारक स्थल हैं, जिनमें राजाओं के शवों को दफनाकर सुरक्षित रखा गया है। इन शवों को ममी (Mummy) कहा जाता है। उनके शवों के साथ पेय पदार्थए वस्त्र, गहनें, बर्तन, वाद्य यंत्र, हथियार, जानवर एवं कभी-कभी तो सेवक सेविकाओं को भी दफना दिया जाता था।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है