Covid-19 Update

2,22,890
मामले (हिमाचल)
2,17,495
मरीज ठीक हुए
3,721
मौत
34,200,957
मामले (भारत)
244,634,716
मामले (दुनिया)

PM गरीब कल्याण अन्न योजना: केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने लाभार्थियों से पूछा कोई शिकायत तो नहीं

गरीब कल्याण अन्न योजना को लेकर हिमाचल के लोगों के साथ जुड़े पीयूष गोयल

PM गरीब कल्याण अन्न योजना: केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने लाभार्थियों से पूछा कोई शिकायत तो नहीं

- Advertisement -

शिमला। केंद्रीय वाणिज्य, उद्योग , खाद्य आपूर्ति मंत्री पीयूष गोयल (Cabinet Minister Piyush Goyal) ने आज हिमाचल के 6 जिलों के लोगों से वर्चुअली संवाद किया। केंद्रीय मंत्री ने पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना को लेकर हिमाचल के लोगों के साथ जुड़े। कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कांगड़ा (Kangra) की गुड्डी देवी से पूछा कि आपको प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना से राशन मिल रहा है।

लाभार्थी ने दिया जवाब 

गुड्डी देवी ने बताया कि उन्हें 15 किलो चावल और 10 किलो गेहूं मिल रहा है। उनके पास कोई भी साधन नहीं था, इससे बहुत सहायता मिली है और पीएम का धन्यवाद किया। वहीं, पीयूष गोयल ने पूछा कि आप किसान हैं तो अन्य योजनाओं का भी लाभ मिलता है, इस पर महिला ने कहा उन्‍हें छह हजार रुपये भी मिले हैं। मंत्री ने पूछा राज्य की और कोई योजना जिससे लाभ मिला है, महिला ने बताया परिवार का हिम केयर कार्ड बना है, गृहणी सुविधा योजना का भी लाभ मिला है। इसके लिए उन्‍होंने सीएम जयराम ठाकुर का आभार जताया। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि कांगड़ा बहुत अच्छी जगह है। जब बचपन में भी बहुत साल पहले यहां आया था। सीएम जयराम ठाकुर से कहूंगा कि मुझे कांगड़ा लेकर जाएं।

यह भी पढ़ें: ब्रेकिंगः राहुल गांधी ने दोबारा किया हिमाचल का रुख, सोनिया गांधी से मिलने पहुंचे छराबड़ा

चंबा का खजियार है बेहद खूबसूरत

वहीं, केंद्रीय मंत्री ने चंबा के ऊषा देवी से भी बात की। उषा देवी से बात करते हुए पीयूष गोयल ने कहा कि खजियार भी बहुत प्रसिद्ध है। आप हमें कभी बुलाएं। लाभार्थी ने कहा हमें जब राशन की जरूरत थी, तब सरकार ने बहुत सहायता की, मुफ्त राशन प्रदान किया। वहीं, ऊषा देवी से बात करते हुए पीयूष गोयल ने कहा कि जिस दुकान से राशन लेते हैं क्या वह कोविड-19 पहले इसके लिए मास्क और शारीरिक दूर का पालन करता है मास्क पहनकर ही बैठता है और शारीरिक दूरी का पालन करवाया जाता है।

राशन का पैसा बच्चों के पढ़ाई पर हुआ खर्च

हमीरपुर की सरोज कुमारी से बात करते हुए कहा कि आप बाबा बालक नाथ की तपोभूमि से संबंध रखते हैं जो पैसे भेजते हैं उससे क्या लाभ होता है। पीयूष गोयल ने पूछा कि यदि योजना नहीं होती तो क्या नुकसान होता। इस पर सरोज कुमारी ने कहा कि बच्चे पढ़ नहीं पाते और जो पैसा राशन पर लगना था वह बच्चों की पढ़ाई पर खर्च किया जा रहा है।

140 जगहों पर लगाई गई एलईडी स्क्रीन

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत शिमला, मंडी, बिलासपुर, कांगड़ा, चंबा और हमीरपुर के लाभार्थियों से संवाद किया। राज्य अतिथि गृह पीटरहाफ शिमला में हुए इस कार्यक्रम के लाइव प्रसारण के लिए 140 स्थानों पर एलईडी स्क्रीन लगाई गईं। इस योजना के तीसरे और चौथे चरण के तहत 10 लाभार्थियों को दो-दो किलो के चावल के बैग भी प्रदान किए। इस अवसर पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और अन्य मंत्रियों सहित केंद्रीय अधिकारी भी मौजूद रहे। सभी जिलों में मुख्‍यालय स्‍तर पर इस कार्यक्रम का लाइव प्रसारण किया गया।

643 करोड़ रुपए के निशुल्क बांटे गए राशन 

सीएम जयराम ठाकुर ने इस मौके पर कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना केन्द्र सरकार द्वारा शुरू की गई एक महत्वाकांक्षी योजना है, जिसके माध्यम से कोविड महामारी के दौरान लोगों की खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित हुई है। हिमाचल प्रदेश में 643 करोड़ रुपये का निशुल्क खाद्य वितरण किया गया है।

सात लाख से अधिक राशनकार्ड धारकों को किया गया शामिल 

सीएम जयराम ने कहा कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अन्तर्गत प्रदेश में सात लाख से अधिक राशनकार्ड धारकों को शामिल किया गया है जिसके फलस्वरूप 29 लाख से अधिक आबादी इससे लाभान्वित हो रही है।योजना के अन्तर्गत 12 लाख से अधिक एपीएल राशन कार्डधारक भी लाभान्वित हो रहे हैं, जिससे राज्य में 44 लाख से अधिक की आबादी को कवर किया जा रहा है। प्रदेश में इस योजना के तहत वर्ष 2020-21 में 69,000 मीट्रिक टन चावल और 42,000 मीट्रिक टन गेहूं का निःशुल्क वितरण किया गया है। इसके अतिरिक्त, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अन्तर्गत आने वाले परिवारों को 5000 मीट्रिक से अधिक काला चना दाल प्रदान की गई है।

हिमाचल को मिलता है पीएम का अतिरिक्त स्नेह 

जय राम ठाकुर ने कहा कि यह प्रदेश का सौभाग्य है कि प्रदेशवासियों को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का स्नेह प्राप्त हो रहा है। एक छोटा पहाड़ी राज्य होने के बावजूद हिमाचल प्रदेश ने यह सुनिश्चित किया है कि सभी पात्र परिवारों को उपदानयुक्त राशन प्राप्त हो। केन्द्र सरकार द्वारा शुरू की गई उज्ज्वला योजना और आयुष्मान भारत योजना के लाभ से वंचित लोगों के लिए प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना और मुख्यमंत्री हिमकेयर योजना शुरू की है।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है