Covid-19 Update

2,23,619
मामले (हिमाचल)
2,17,918
मरीज ठीक हुए
3,729
मौत
34,242,185
मामले (भारत)
246,029,018
मामले (दुनिया)

पीएम मोदी आएंगे हिमाचल, एथेनॉल उद्योग का करेंगे शिलान्यास, खुलेंगे रोजगार के द्वार

एचपीसीएल की तरफ से करीब 250 करोड़ रुपये की लागत से लगेगा एथेनॉल उद्योग

पीएम मोदी आएंगे हिमाचल, एथेनॉल उद्योग का करेंगे शिलान्यास, खुलेंगे रोजगार के द्वार

- Advertisement -

ऊना। पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) जल्द हिमाचल आ सकते हैं। इसके संकेत दिखने लगे हैं। वे हिमाचल के ऊना जिले में 250 करोड़ की लागत से लगने वाले एथेनॉल उद्योग (ethanol industry) का शिलान्यास करेंगे। एचपीसीएल (हिंदुस्तान पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड) की तरफ से करीब 250 करोड़ रुपये की लागत से प्रदेश का पहला एथेनॉल उद्योग ऊना में लगाया जा रहा है। इसके लिए जीतपुर बेहड़ी में भूमि के चयन के साथ ही 30 एकड़ भूमि आवंटन भी कर दी गई है।

यह भी पढ़ें:केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने सीएम जयराम के साथ निहारी अटल टनल, बोले-यह देश का गौरव

भूमि अधिग्रहण नहीं हुई है पूरी

वहीं, एचपीसीएल (HPCL) की तरफ से 10 एकड़ भूमि की अतिरिक्त मांग की गई है, जिसके लिए भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया में उद्योग विभाग जुटा है। भूमि अधिग्रहण की औपचारिकता पूरा होते ही पीएम नरेंद्र मोदी उद्योग का शिलान्यास करने के लिए जल्द पहुंचेंगे। खास बात यह है कि ऊना में एथेनॉल उद्योग लगने के चलते सीधे तौर पर 500 से अधिक लोगों को रोजगार मिलेगा। साथ ही अप्रत्यक्ष तौर पर भी रोजगार के अवसर पैदा होंगे।

हिमाचल का पहला एथेनॉल उद्योग होगा

मालूम हो कि ऊना जिले में कई बड़े औद्योगिक घरानों की इकाइयां स्थापित है, लेकिन अभी तक एथेनॉल का उत्पादन हिमाचल में नहीं हो रहा था। एचपीसीएल द्वारा यह पहला एथेनॉल उद्योग ऊना में लगाया जा रहा है। वहीं, खास बात यह है कि उद्यम लगने के बाद उत्पादन के लिए गन्ने के वेस्ट की जरूरत पड़ेगी। इससे जिले में गन्ने की खेती को भी बढ़ावा मिलेगा। हालांकि, एथेनॉल को चावल से भी तैयार किया जा सकता है। दोनों ही सूरत में किसान को फायदा होगा।

यह भी पढ़ें:हस्तशिल्प उत्पादों को मिलेगा अंतरराष्ट्रीय बाजार, बुनकर सेवा व डिजाइन रिसोर्स केंद्र भी खुलेगा

गन्ना की खेती करने वालों का मिलेगा फायदा

गन्ने की खेती करने वालों को चीनी मिलों में पैदावार बेचने के बाद उसके वेस्ट को सरकार की ओर से खरीदा जाएगा। इस वेस्ट से उद्योग में प्रतिदिन 200 मिलीलीटर एथेनॉल का उत्पादन किया जाएगा। ऊना में इससे पहले भारत सरकार की तरफ से रायपुर सहोड़ा व पेखूबेला में आइओसी टर्मिनल बनाया गया है जिसमें प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से एक हजार से अधिक लोगों को रोजगार मिले हैं। स्थानीय ट्रांसपोर्टरों को भी काम मिला है। अब सरकारी क्षेत्र का बड़ा उद्यम लगने से इसका लाभ भी मिलेगा।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel…

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है