×

सिस्सू में जनता से बोले #PM_Modi – अब योजनाएं इस आधार पर नहीं बनतीं कि कहां कितने वोट हैं

बोले- अब लाहुल के किसानों की गोभी, आलू और मटर की फसल बर्बाद नहीं होगी

सिस्सू में जनता से बोले #PM_Modi – अब योजनाएं इस आधार पर नहीं बनतीं कि कहां कितने वोट हैं

- Advertisement -

मनाली। पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने रोहतांग में आज (शनिवार) दुनिया की सबसे बड़ी ‘अटल टनल‘ (Atal Tunnel) का लोकार्पण किया। पीएम मोदी ने टनल के साउथ पोर्टल पर लोकार्पण किया। इसके बाद पीएम मोदी ने ‘अटल टनल’ का लोकार्पण करने के बाद आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि आज का दिन बहुत ऐतिहासिक है। आज सिर्फ अटल जी का ही सपना पूरा नहीं हुआ है। आज हिमाचल प्रदेश के करोड़ों लोगों का दशकों पुराना इंतजार खत्म हुआ है।


यह भी पढ़ें: Una में लोगों ने लाइव देखा #Atal_Tunnel का लोकार्पण, सत्ती बोले – साकार हुआ वाजपेयी का सपना

 

लोकार्पण समारोह को संबोधित करने के बाद पीएम मोदी रोहतांग सुरंग से सफर कर दूसरे छोर पर लाहुल-स्‍पीति जिला के सिस्‍सू में पहुंचे। यहां पीएम ने स्‍की विलेज के मॉडल को देखा। पीएम मोदी ने सिस्‍सू में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि आज लंबे समय के बाद आप सभी के बीच आना मेरे लिए सुखद अनुभव है। अटल टनल के लिए आप सभी को बहुत-बहुत बधाई और शुभकामनाएं। प्रयास इस बात का है कि कोई भारतीय छूट ना जाए

पीएम मोदी ने आगे कहा कि #AtalTunnel के बनने से लाहुल-स्‍पीति और पांगी के किसान हों, बागवानी से जुड़े लोग हों, पशुपालक हों, स्टूडेंट हों, नौकरीपेशा हों, व्यापारी-कारोबारी हों, सभी को लाभ होने वाला है। अब लाहुल के किसानों की गोभी, आलू और मटर की फसल बर्बाद नहीं होगी, बल्कि तेजी से मार्केट पहुंचेगी। उन्होंने कहा कि लाहुल-स्‍पीति एक प्रकार से औषधीय पौधों और अनेक मसालों का उत्पादक है। ये उत्पाद पूरे देश में हिमाचल की, लाहुल-स्‍पीति की पहचान बन सकते हैं।

 

 

#AtalTunnel बनने के बाद यहां के लोगों को बच्चों की पढ़ाई के लिए पलायन की जरूरत नहीं होगी। बक़ौल पीएम मोदी, ‘स्पीति घाटी में स्थित देश में बौद्ध शिक्षा के एक अहम केंद्र ताबो मठ तक दुनिया की पहुंच और सुगम होने वाली है। एक प्रकार से ये पूरा इलाका पूर्वी एशिया समेत विश्व के अनेक देशों के बौद्ध अनुयायियों के लिए भी एक बड़ा सेंटर बनने वाला है।’ पीएम ने अपना संबोधन जारी रखते हुए आगे कहा कि अब देश में नई सोच के साथ काम हो रहा है। सबके साथ से, सबके विश्वास से, सबका विकास हो रहा है। अब योजनाएं इस आधार पर नहीं बनतीं कि कहां कितने वोट हैं। अब प्रयास इस बात का है कि कोई भारतीय छूट ना जाए, पीछे न रह जाए। इस बदलाव का एक बहुत बड़ा उदाहरण लाहुल-स्पीति है।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whatsapp Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है