Covid-19 Update

3,12, 506
मामले (हिमाचल)
3, 08, 258
मरीज ठीक हुए
4190
मौत
44, 664, 810
मामले (भारत)
639,534,084
मामले (दुनिया)

V आकार में झुंड बनाकर क्यों उड़ते हैं पक्षी, जानिए क्या है कारण

पक्षियों के वी आकार में उड़ने के हैं दो अहम कारण

V आकार में झुंड बनाकर क्यों उड़ते हैं पक्षी, जानिए क्या है कारण

- Advertisement -

अक्सर आपने आसमान में पक्षियों के झुंड को जाते हुए देखा होगा। क्या आपने कभी ये नोटिस किया है कि पक्षी वी आकार में झुंड बनाकर उड़ते हैं। हालांकि, वैज्ञानिकों के बीच भी ये बात लंबे समय तक बहस का विषय बनी रही, लेकिन बाद में एक रिसर्च में पक्षियों के झुंड में घूमने की कई खास बातें सामने आईं।


यह भी पढ़ें-ट्रक ड्राइवर ने किया खतरनाक स्टंट, वीडियो देख रह जाएंगे दंग

रिसर्च के मुताबिक पक्ष‍ियों में वी आकार में उड़ने की कला जन्म से नहीं होती है, लेकिन समय के साथ पक्षी धीरे-धीरे झुंड में रहने पर ऐसा करना सीखते हैं। वैज्ञानिकों के अनुसार, उड़ते समय पक्षियों के वी आकार बनाने के पीछे दो कारण होते हैं। एक तो ये की वी आकार में पक्षी आसानी से उड़ पाते हैं और वे अपने दूसरे साथी के साथ टकराते नहीं है। जबकि, दूसरा कारण ये कि पक्षियों के झुंड का एक लीडर होता है, जो कि सबको गाइड करता है। उड़ते समय सभी पक्षी लीडर के पीछे उड़ते हैं। फिलहाल, पक्षियों के वी आकार में उड़ने के यही दो अहम कारण सामने आए हैं।

वैज्ञानिकों का कहना है कि माइग्रेटरी बर्ड (Migratory Birds) लंबी उड़ान भरते हैं इसलिए खासतौर पर इनमें वी-आकार में उड़ने के मामले ज्यादा सामने आते हैं। उनका कहना है कि इस तरह की उड़ान भरने पर हवा को काटना आसान हो जाता है और साथ में उड़ रहे पक्षी के लिए उड़ते रहना और आसान हो जाता है। साथ ही ऐसे उड़ने से पक्षियों की एनर्जी बचती है।

वैज्ञानिकों का कहना है कि पक्षियों में सबसे आगे बढ़ने को लेकर प्रतिस्पर्धा नहीं होती। सभी चिड़ि‍यों को उड़ने का बराबर अधिकार होते हैं, लेकिन स्वस्थ चिड़िया ही लीड पोजिशन में आगे बढ़ती है। कोई भी एक पक्षी जो सबसे पहले उड़ान भरता है वो आगे चलता है और बाकी उसके पीछे उड़ना शुरू कर देते हैं। हालांकि, जब सबसे आगे चलने वाला पक्षी थक जाता है तो वे पक्षी पीछे आ जाता है और दूसरा पक्षी उसकी जगह ले लेता है।

 


हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




×
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है