Covid-19 Update

2,23,619
मामले (हिमाचल)
2,17,918
मरीज ठीक हुए
3,729
मौत
34,242,185
मामले (भारत)
246,029,018
मामले (दुनिया)

फतेहपुर से बलदेव को टिकट देने से नाराज बीजेपी मंडल, बीडीसी चेयरमैन सहित 40 प्रधानों ने दिए इस्तीफे

हाईकमान से पूछा- बीजेपी उपाध्यक्ष कृपाल परमार को टिकट क्यों नहीं दिया गया।

फतेहपुर से बलदेव को टिकट देने से नाराज बीजेपी मंडल, बीडीसी चेयरमैन सहित 40 प्रधानों ने दिए इस्तीफे

- Advertisement -

रविन्द्र चौधरी/ फतेहपुर। हिमाचल में होने वाले उपचुनाव के बीजेपी ने फतेहपुर विधानसभा सीट से बलदेव ठाकुर को मैदान में उतारा है। बलदेव ठाकुर के नाम का ऐलान होते ही फतेहपुर बीजेपी में बवाल मच गया। गुस्साए बीजेपी मंडल फतेहपुर, बीडीसी चेयरमैन, महिला मोर्चा फतेहपुर सहित 40 प्रधानों ने सामूहिक रूप से हाईकमान को अपना इस्तीफा सौंप दिया है। इसके बाद फतेहपुर की राजनीति में भूचाल आ गया है। बीजेपी मंडल फतेहपुर के अध्यक्ष करतार पठानिया, बीडीसी चेयरमैन निशा शर्मा, उपाध्यक्ष धर्मेंद्र शुन्ना, महिला मोर्चा फतेहपुर अध्यक्ष सुमन बाला ने कहा कि उन्होंने पार्टी में रहकर पार्टी की सेवा की है तथा वे हाईकमान से जानना चाहते हैं कि आखिरकार प्रदेश बीजेपी उपाध्यक्ष कृपाल परमार को टिकट क्यों नहीं दिया गया। उन्होंने कहा कि हाईकमान ने ऐसे व्यक्ति को टिकट दे दिया जिसने वर्ष 2017 में बीजेपी के खिलाफ आजाद चुनाव लड़ा था। उन्होंने कहा कि हम कृपाल परमार के साथ हैं तथा अगर पार्टी हाईकमान ने अपना निर्णय नहीं बदला तो वे बीजेपी के खिलाफ कार्य करेंगे। समस्त कार्यकर्ताओं ने इस्तीफा देने के बाद ‘कृपाल जी तुम आगे बढ़ो हम तुम्हारे साथ हैं’ के नारे भी लगाए लगाए। हालांकि अभी तक प्रदेश बीजेपी उपाध्यक्ष कृपाल परमार की कोई भी प्रतिक्रिया नहीं आई है लेकिन सामूहिक इस्तीफों से राजनीति गरमा गई है।

यह भी पढ़ें:कृपाल परमार के खिलाफ फिर लगे पोस्टरः गो बैक-फतेहपुर की जनता करे पुकार, अबकी बार चक्की पार
बीजेपी ने 2017 में की अपनी गलती को दोहराया

एक बात साफ है कि बीजेपी ने कहीं ना कहीं विधानसभा चुनाव 2017 में की अपनी गलती को दोहरा लिया है। फतेहपुर में इस बार पार्टी ने बदलेव ठाकुर को अपना उम्मीदवार बनाया हैं। 2017 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने कृपाल परमार को टिकट दिया था। पर फतेहपुर में संगठन में बलदेव ठाकुर की पकड़ मजबूत थी, कृपाल परमार को टिकट मिलने से बलदेव ठाकुर और उनके समर्थक नाराज हो गए और कृपाल को टिकट का विरोध किया गया। बलदेव ठाकुर ने विधानसभा चुनाव में आजाद प्रत्याशी के तौर पर हुंकार भर दी। अधिकतर संगठन के लोग बलदेव ठाकुर के साथ चले गए। नतीजा यह हुआ कि ना तो बलदेव ठाकुर जीते और ना ही कृपाल जीत पाए। उस वक्त कांग्रेस के सुजान सिंह पठानिया ने जीत दर्ज की। जीत का मार्जिन 1,284 रहा था। सुजान सिंह पठानिया ने 18 हजार 962 और कृपाल परमार ने 17 हजार 678 मत प्राप्त किए थे।फतेहपुर विधानसभा चुनाव 2017 हारने के बाद कृपाल परमार फतेहपुर में डट गए और आगामी चुनाव के लिए ग्राउंड तैयार करना शुरू कर दिया। बीजेपी मंडल फतेहपुर सहित सभी कार्यकारियों का गठन व अन्य बीजेपी संगठनों का पुर्नगठन अपनी देखरेख में किया। लेकिन बीजेपी ने फतेहपुर उपचुनाव में कृपाल परमार की जगह बलदेव को टिकट दे दिया।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है