Covid-19 Update

2,06,161
मामले (हिमाचल)
2,01,388
मरीज ठीक हुए
3,505
मौत
31,693,625
मामले (भारत)
198,846,807
मामले (दुनिया)
×

पूर्व सांसद राम स्वरूप का बेटा बोला- मेरे पिता ने आत्महत्या नहीं की, उनकी हत्या हुई है

दिल्ली में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से कर चुके हैं मुलाकात, पीएम से मांगा है समय

पूर्व सांसद राम स्वरूप का बेटा बोला- मेरे पिता ने आत्महत्या नहीं की, उनकी हत्या हुई है

- Advertisement -

मंडी। लगभग तीन महीनों के बाद दिवंगत सांसद राम स्वरूप शर्मा (MP Ram Swaroop Sharma) के परिवार ने उनकी मौत को हत्या बताया है। स्व. राम स्वरूप शर्मा के तीन बेटे हैं और इनमें से मंझला बेटा आनंद स्वरूप इन दिनों दिल्ली में अपने पिता की मौत को लेकर पुलिस द्वारा की गई जांच को जांचने के लिए गया हुआ है। पुलिस से आनंद स्वरूप को जो जानकारी मिली है उसके अनुसार अभी तक सिर्फ पोस्टमार्टम की रिपोर्ट (Post mortem Report) ही आई है जबकि बाकी रिपोर्ट आना अभी बाकी है। कोविड के कारण दिल्ली में जो लॉकडाउन लगा था उस कारण रिपोर्ट आने में हुई देरी को इसका कारण बताया जा रहा है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी मौत का कारण हैंगिंग ही बताया गया है। लेकिन यह साफ नहीं हुआ है कि राम स्वरूप खुद लटके थे या उन्हें किसी ने लटकाया है।

यह भी पढ़ें: बिलासपुर : काम पर निकला पति पीछे से पत्नी ने लगा लिया फंदा

आनंद स्वरूप का कहना है कि उनके पिता सामान्य रूप से रह रहे थे और उन्हें किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं थी। जिस दिन उनकी मौत (Death) हुई उससे एक रात पहले भी वे पूरी तरह से सामान्य थे। ऐसी परिस्थितियों में इंसान इतना खौफनाक कदम क्यों उठाएगा। इन सारी बातों को ध्यान में रखते हुए परिवार को अब हत्या का अंदेशा हो रहा है। आनंद स्वरूप ने बताया कि मामले की त्वरित जांच को लेकर वे दिल्ली में केंद्रीय मंत्री नीतिन गडकरी से भी मिल चुके हैं और अब लोकसभा अध्यक्ष से मिलने वाले हैं। वहीं पीएम नरेंद्र मोदी से भी मिलने के लिए समय मांगा है। इससे पहले 23 अप्रैल को सीएम जयराम ठाकुर से शिमला में भी मुलाकात कर चुके हैं। सीएम ने भी दिल्ली पुलिस की रिपोर्ट आने के बाद आगामी कार्रवाई का भरोसा दिलाया है।


ज्ञात रहे कि 17 मार्च 2021 की सुबह राम स्वरूप शर्मा अपने दिल्ली स्थित निवास स्थान पर अपने कमरे में फंदे से लटके हुए मिले थे। प्रारंभिक जांच में सभी इसे आत्महत्या ही मान रहे हैं लेकिन परिवार लंबे मंथन के बाद इस निष्कर्ष पर निकला है कि यह आत्महत्या नहीं हत्या है। परिवार का यह संदेह मामले की सारी जांच पूरी होने के बाद ही दूर हो पाएगा।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है