Covid-19 Update

3,12, 233
मामले (हिमाचल)
3, 07, 924
मरीज ठीक हुए
4189
मौत
44,599,466
मामले (भारत)
623,690,452
मामले (दुनिया)

हिमाचल में बढ़ने लगा जीएसटी संग्रहण, अगस्त माह में हुई 14 फीसदी की वृद्धि

आबकारी विभाग ने अगस्त माह में 398 करोड़ रुपए जीएसटी किया संग्रहित

हिमाचल में बढ़ने लगा जीएसटी संग्रहण, अगस्त माह में हुई 14 फीसदी की वृद्धि

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल में अगस्त माह में जीएसटी संग्रहण (GST Collection) में 14 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। अगस्त माह में 398 करोड़ रुपए जीएसटी संग्रहण किया गया है। यह जानकारी राज्य कर एवं आबकारी आयुक्त युनूस (Excise Commissioner Yunus) ने दी। उन्होंने बताया कि इस वित्त वर्ष में अगस्त माह के दौरान वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) संग्रहण में 14 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई। उन्होंने कहा इस वित्त वर्ष के दौरान प्रथम पांच माह में जीएसटी संग्रहण पिछले वर्ष की समान अवधि के 1634 करोड़ रुपए के संग्रहण की तुलना में 2255 करोड़ रुपए रहा। उन्होंने कहा कि यह वृद्धि करदाताओं में कर अदायगी संबंधी अनुपालना में सुधार तथा विभाग द्वारा किए गए विभिन्न प्रशासनिक एवं नीतिगत प्रयासों तथा प्रवर्तन प्रणाली के सुदृढ़ीकरण से संभव हो पाई है।

यह भी पढ़ें:भारत में पहली तिमाही में जीडीपी 13.5 फीसदी से बढ़ी

वर्तमान वित्त वर्ष के दौरान 25 प्रतिशत की वार्षिक संचयी वृद्धि का लक्ष्य हासिल करने के लिए विभाग ने रिटर्न फाइलिंग में निरंतर सुधार, रिटर्न की तीव्र छंटनी, जीएसटी ऑडिट को समय पर पूरा करना और मजबूत प्रवर्तन पर विशेष रूप से ध्यान केंद्रित किया है। विभाग ने वर्तमान वित्त वर्ष में अपने रोड चैकिंग अभियान (Road Checking Campaign) में पांच लाख 60 हजार ई-वे बिल सत्यापित किए हैं। विभाग स्वैच्छिक अनुपालन में सुधार के लिए प्रतिबद्ध है और टैक्स हाट कार्यक्रम के तहत समयबद्ध रूप से हितधारकों के मुद्दों का निवारण किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि इस माह के दौरान हितधारकों को जागरूक करने के लिए व्यापक स्तर पर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित करने की योजना तैयार की गई है। उन्होंने कहा कि जागरूकता कार्यक्रमों से स्वैच्छिक अनुपालन में सुधार आने की संभावना है। उन्होंने कहा कि विभाग टैक्स अधिकारियों के ज्ञान में वृद्धि तथा क्षमता निर्माण पर भी ध्यान केंद्रित कर रहा है। गत छह माह के दौरान 400 कर अधिकारियों को प्रशिक्षण प्रदान किया गया है। प्रदेश मंत्रिमंडल द्वारा विभागीय पुनर्गठन की सैद्धान्तिक मंजूरी और प्रशिक्षित अधिकारियों के सशक्त प्रयासों से विभाग को राजस्व लक्ष्यों को प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है