Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,810,782
मामले (भारत)
201,005,476
मामले (दुनिया)
×

बहुतकनीकी संस्थान के छात्रों ने सरकार के खिलाफ बोला हल्ला, प्रमोट करने की उठाई मांग

ऑफलाइन परीक्षाओं का किया विरोध, एसडीएम के माध्यम से प्रदेश सरकार को भेजा ज्ञापन

बहुतकनीकी संस्थान के छात्रों ने सरकार के खिलाफ बोला हल्ला, प्रमोट करने की उठाई मांग

- Advertisement -

हमीरपुर। राजकीय बहुतकनीकी संस्थान हमीरपुर (Government Polytechnic Institute Hamirpur) के छात्रों ने ऑफलाइन परीक्षाओं के विरोध में मंगलवार को गांधी चौक पर जमकर प्रदर्शन किया। हाथों में बैनर लेकर छात्रों ने तकनीकी शिक्षा विभाग के फैसले के खिलाफ नारेबाजी की और एचपीयू की तर्ज पर प्रमोट करने अथवा ऑनलाइन परीक्षा करवाने की मांग की। छात्रों ने अपनी मांगों को लेकर एडीएम के माध्यम से प्रदेश सरकार को ज्ञापन भी भेजा। ज्ञापन में मांग की गई है कि अगर एचपीयू के छात्रों को प्रमोट किया जा सकता है तो फिर तकनीकी शिक्षा के छात्रों को भी उन्ही मापदंडों पर प्रमोट करना चाहिए। इस दौरान छात्रों की मांगों का समर्थन करते हुए एनएसयूआई (NSUI) हमीरपुर के कार्यकर्ता भी प्रदर्शन में शामिल हुए।

यह भी पढ़ें: डीसी ऑफिस पहुंच गए एनएसयूआई के छात्र, बताया-क्यों नहीं होनी चाहिए परीक्षाएं

 


 

छात्रों ने मांग करते हुए कहा कि सरकार को एचपीयू (HPU) की तर्ज पर उन्हे भी प्रमोट करना चाहिए, क्योकि उन्हे भी ऑनलाइन पढ़ाई (Online Study) करवाई गई थी, जिसमें छात्रों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा था। प्रदर्शन में शामिल एनएसयूआई ने बहुतकनीकी संस्थान के छात्रों की मांग को सही ठहराया है। उन्होंने कहा कि छात्रों ने जब ऑनलाइन पढ़ाई की है, तो फिर परीक्षा भी ऑनलाइन होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि संगठन ने जिस तरह एचपीयू के छात्रों के साथ खड़ा होकर संघर्ष किया उसी तरह अगर सरकार ने कोई फैसला नही लिया, तो आंदोलन से गुरेज नही किया जाएगा।

 

 

छात्र अनुज, मीनाक्षी ने कहा कि बहुतकनीकी संस्थान के अधिकतर छात्र 10वीं पास होते हैं और उनकी उम्र 18 साल से कम होती है। ऐसे में छात्रों को वैक्सीन भी नही लग पाई है। जिससे ऑफलाइन परीक्षाएं (offline exams) छात्रों की सेहत से बड़ा खिलवाड़ होगा। उन्होंने कहा कि छात्रों के हितों को ध्यान में रखते हुए सरकार को सभी के लिए एक सामान फैसला लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि कई छात्रों री अपीयर के लिए दूसरे राज्यों से भी आते है ऐसे में छात्रों को संक्रमण का खतरा बना रहेगा। वहीं छात्र अभिषेक ने कहा कि ऑनलाइन पढाई में कई तरह की दिक्कतें आई और सही तरीके से प्रैक्टीकल भी नही हुए। ऐसे में सरकार को एचपीयू की तर्ज पर प्रमोट का फैसला लेना चाहिए।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel…

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है