Covid-19 Update

2,21,604
मामले (हिमाचल)
2,16,608
मरीज ठीक हुए
3,709
मौत
34,093,291
मामले (भारत)
241,684,022
मामले (दुनिया)

हिमाचल: उच्च शिक्षा निदेशालय ने रोकी स्वर्ण जयंती सुपर 100 योजना, जाने क्या हैं कारण

10वीं कक्षा के परीक्षा परिणाम से नाखुश विद्यार्थियों की आपत्तियों के बाद लिया फैसला

हिमाचल: उच्च शिक्षा निदेशालय ने रोकी स्वर्ण जयंती सुपर 100 योजना, जाने क्या हैं कारण

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल में स्वर्ण जयंती सुपर 100 योजना पर रोक लगा दी गई है। यह फैसला मंगलवार को उच्च शिक्षा निदेशालय (Directorate of Higher Education) ने 10वीं कक्षा के परीक्षा परिणाम से नाखुश विद्यार्थियों की आपत्तियों के बाद लिया है। उच्च शिक्षा निदेशालय ने स्कूल शिक्षा बोर्ड से मेरिट लिस्ट (Merit List) ठीक करने के बाद ही आवेदन लेने का निर्णय लिया है। यह जानकारी निदेशक डॉ. अमरजीत कुमार शर्मा ने दी। उन्होंने बताया कि इस बाबत सभी जिला उपनिदेशकों को पत्र जारी कर दिया है। उन्होंने बताया कि शिक्षा बोर्ड की ओर से मेरिट लिस्ट अभी तैयार नहीं की गई है।

यह भी पढ़ें:HPBOSE: परीक्षा शुल्क में दी रियायत, फर्स्ट और सेकेंड टर्म परीक्षाओं सहित लिए बड़े फैसले

बता दें कि कई विद्यार्थियों ने परिणामों को लेकर कुछ आपत्तियां दर्ज करवाई हैं। उन्होंने बताया कि बोर्ड से संशोधित मेरिट लिस्ट जारी होते ही स्वर्ण जयंती सुपर 100 योजना (Swarna Jayanti Super 100 Scheme) को शैक्षणिक सत्र 2021-22 के लिए शुरू किया जाएगा। बता दें कि प्रदेश के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले 100 मेधावी छात्रों को कोचिंग लेने के लिए प्रदेश सरकार ने एक-एक लाख रुपये देने की स्वर्ण जयंती सुपर 100 योजना शुरू की है। योजना के तहत चयनित होने वाले विद्यार्थियों को कोचिंग संस्थानों में दाखिले लेने का मौका दिया जाएगा। संस्थानों में दाखिला लेते ही विद्यार्थियों को 30.30 हजार रुपये की पहली किस्त जारी होगी।

छात्र खुद कर सकेंगे कोचिंग संस्थानों का चयन

चयनित विद्यार्थियों को उनके बैंक खातों में किस्तों में यह राशि दी जाएगी। छात्र खुद कोचिंग संस्थानों का चयन करेंगे। ऑफलाइन के साथ ऑनलाइन कोचिंग का विकल्प भी छात्रों को दिया गया है। वर्तमान में सरकारी स्कूलों की जमा एक कक्षा में पढ़ने वाले विद्यार्थियों को ही यह लाभ मिलेगा।

8वीं के छात्रों को नहीं परोसा जाएगा मिड-डे मील

सरकारी स्कूलों में आठवीं कक्षा के विद्यार्थियों को अभी मिड-डे मील नहीं परोसा जाएगा। पहले की ही तरह उन्हें सूखा राशन विद्यार्थियों को देने का फैसला लिया है। हालात सामान्य होने के बाद ही इस व्यवस्था को दोबारा शुरू किया जाएगा।

आज 64 फीसदी छात्र पहुंचे स्कूल

मंगलवार को दूसरे दिन स्कूल आने वाले आठवीं से 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों की संख्या में बढ़ोतरी दर्ज हुई। 64 फीसदी विद्यार्थियों ने स्कूलों में पहुंचकर अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई। मंगलवार को आठवीं कक्षा में 55.7 फीसदी, नौवीं कक्षा में 66 फीसदी, 10वीं कक्षा में 70 फीसदी, 11वीं कक्षा में 58 फीसदी और 12वीं कक्षा में 70 फीसदी विद्यार्थियों ने उपस्थिति दर्ज करवाई।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है