Covid-19 Update

2,01,049
मामले (हिमाचल)
1,95,289
मरीज ठीक हुए
3,445
मौत
30,067,305
मामले (भारत)
180,083,204
मामले (दुनिया)
×

190 फीट ऊपर से भी कोरोना संक्रमितों का पता लगा सकेगा ये Drone, हो रहा ट्रायल

190 फीट ऊपर से भी कोरोना संक्रमितों का पता लगा सकेगा ये Drone, हो रहा ट्रायल

- Advertisement -

इस समय पूरा विश्व कोरोना के खौफ में हैं। लोगों के मन में यही डर है कि कहीं उनकी मुलाकात गलती से किसी संक्रमित व्यक्ति से ना हो जाए। बिना चेकअप के ये पता भी नहीं लग पाता है कि कौन कोरोना संक्रमित है कौन नहीं। इसी बीच कनाडा की एक कंपनी ने दावा किया है कि उसका ड्रोन (Drone) 190 फीट की दूरी से लोगों के टेंपरेचर का पता लगा सकता है। अमेरिका में पुलिस इस ड्रोन का ट्रायल भी कर रही है। कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में यह काफी उपयोगी साबित हो सकता है। ड्रोन की टेस्टिंग न्यूयॉर्क शहर में भी की गई है।


जानकारी के मुताबिक, अमेरिका के कनेक्टिकट में पुलिस ड्रैगनफ्लाई कंपनी के ड्रोन को टेस्ट कर रही है। ड्रैगनफ्लाई (Draganfly) कनाडा की कंपनी है। इसका कहना है कि सिर्फ सार्वजनिक जगह पर ही इस ड्रोन का इस्तेमाल किया जाएगा ताकि लोगों की निजता का हनन ना हो। ड्रोन में फेशियल रिकॉग्निशन का इस्तेमाल नहीं किया गया है। यह ड्रोन लोगों के कफ और छींकने का भी पता लगा सकता है। ड्रोन में खास तरह के सेंसर और कंप्यूटर विजन लगे हैं जिससे कि यह हार्ट और सांस लेने की रफ्तार के बारे में भी जानकारी हासिल कर सकता है।

हालांकि, यह ड्रोन लोगों को आइडेंटिफाई नहीं करता है। कंपनी ने इससे पहले मार्च में बताया था कि वे यूनिवर्सिटी ऑफ साउथ ऑस्ट्रेलिया के साथ मिलकर एक खास तरह के ड्रोन तैयार कर रही है जिसका इस्तेमाल कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में किया जा सकता है। ये ड्रोन सड़क और सार्वजनिक स्थानों पर यह भी पता लगा सकता है कि लोग सोशल डिस्टेंसिंग को फॉलो कर रहे हैं या नहीं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है