Covid-19 Update

1,99,252
मामले (हिमाचल)
1,92,229
मरीज ठीक हुए
3,395
मौत
29,633,105
मामले (भारत)
177,469,183
मामले (दुनिया)
×

सीएम जयराम ठाकुर जायजा ले रहे थे-Corona संक्रमित सड़क पर पड़े थे, महिला तड़प रही थी

डॉ वाईएस परमार मेडिकल कॉलेज अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ परिजनों का फूटा गुस्सा

सीएम जयराम ठाकुर जायजा ले रहे थे-Corona संक्रमित सड़क पर पड़े थे, महिला तड़प रही थी

- Advertisement -

नाहन। इसे कहते हैं लापरवाही की हद… प्रदेश के मुखिया के सामने कोरोना संक्रमित पड़े रहे और आईसीयू पूरा खाली … यहां तक कि एक महिला जिसके पति की कोरोना से मौत हो गई थी और वह खुद भी संक्रमित थी, फर्श पर तड़प रही थी। ना तो किसी ने महिला की तरफ देखा और ना ही संक्रमितों की सुध ली। इतना ही नहीं सीएम जयराम के सामने कुछ लोग शिकायत लेकर  भी पहुंचे और सीधे चिकित्सकों पर लापरवाही के आरोप लग रहे थे लेकिन सब मूक दर्शक बने रहे। शायद इसे कहते हैं शिखर की ओर हिमाचल। सीएम खुद वहां कोविड-19 की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करने गए थे।


ये पूरा मामला विवादों के लिए सुर्खियों में रहे डॉ वाईएस परमार मेडिकल कॉलेज अस्पताल नाहन (Dr. YS Parmar Medical College Hospital) का है। यहां  कोविड आइसोलेशन सेंटर में मरीज की मौत के बाद आज परिजनों ने सीएम जयराम ठाकुर के समक्ष अपना दुखड़ा रोया। मरीज की पत्नी ने सीएम जयराम को बताया कि मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों की लापरवाही के चलते उसके पति की मौत हो गई। जैसे ही सीएम जयराम (CM Jai Ram Thakur) का काफिला मेडिकल कॉलेज के कोविड.आइसोलेशन सेंटर (Covid Isolation Center) के बाहर पहुंचा, कोरोना से जान गवां चुके शख्स की पत्नी ने सीएम के समक्ष डॉक्टरों पर सीधे लापरवाही का आरोप लगा दिया। आरोपों के चलते वहां का माहौल एकदम बदल गया। चूंकि सीएम जयराम ठाकुर तो यहां कोविड-19 (Covid-19) से उत्पन्न स्थिति के बाद की तैयारियों की समीक्षा करने पहुंचे थे। उससे पहले ही इस तरह के आरोपों ने पूरा माहौल की बदल दिया।

संक्रमित की पत्नी पड़ी रही सड़क किनारे

यहां तक एक व्यक्ति की कोरोना से मौत के बाद उसकी संक्रमित पत्नी भी आइसोलेशन वार्ड ( Isolation ward)के बाहर सड़क किनारे काफी देर तक पड़ी रही। परिजनों ने सीधे-सीधे मेडिकल स्टाफ की कार्यप्रणाली को कटघरे में खड़ा करते हुए खूब खरी सोटी सुनाई। परिजनों ने सीधे-सीधे मुख्यमंत्री के समक्ष आरोप लगाया कि आइसोलेशन वार्ड में मरीजों की कोई देखरेख नहीं हो रही है। तकरीबन 4 से 5 मिनट तक परिजनों ने सीएम जयराम को अपनी पूरी आपबीती सुनाई। इसके पश्चात सीएम डीसी कार्यालय में आयोजित समीक्षा बैठक के लिए रवाना हो गए।

ये पढ़ेः कोविड की स्थिति जानने सीएम जयराम पहुंचे नाहन

विवादों में रहा है कॉलेज

पिछले 2 वर्षों से नाहन मेडिकल कॉलेज ( Nahan Medical College) किसी न किसी बात को लेकर विवाद में रहा है। मेडिकल कॉलेज की हालत सामान्य अस्पताल से भी बदतर हो गई है। इसी बीच कोविड आइसोलेशन सेंटर के कुछ वीडियो भी वायरल हो रहे हैं। जिसमें लोगों के परिजन डॉक्टरों पर लापरवाही के आरोप लगा रहे हैं। वायरल वीडियो में परिजनों का आरोप है कि तीन-तीन दिन तक कोई भी डॉक्टर आइसोलेशन सेंटर में रोगियों की जांच करने नहीं आता है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है