Covid-19 Update

59,197
मामले (हिमाचल)
57,580
मरीज ठीक हुए
987
मौत
11,244,092
मामले (भारत)
117,591,889
मामले (दुनिया)

Himachal को मिले 111 बिस्तरों के दो कोविड-19 मेक शिफ्ट अस्पताल, उप-राष्ट्रपति ने किया लोकार्पण

कोविड-19 मेक शिफ्ट अस्पतालों में टांडा को 66 तो नालागढ़ को मिली 45 बिस्तर की सुविधा

Himachal को मिले 111 बिस्तरों के दो कोविड-19 मेक शिफ्ट अस्पताल, उप-राष्ट्रपति ने किया लोकार्पण

- Advertisement -

शिमला। देश के उप-राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू (Vice President of India Venkaiah Naidu) ने बुधवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जिला कांगड़ा के डॉ. राजेन्द्र प्रसाद आयुर्विज्ञान महाविद्यालय टांडा और जिला सोलन के नागरिक अस्पताल नालागढ़ के कोविड-19 मेक शिफ्ट अस्पतालों (Covid-19 makeshift hospital) का लोकार्पण किया। यह लोकार्पण उन्होंने काउंसिल ऑफ सांईटिफिक एंड इन्डस्ट्रीयल रिसर्च (सीएसआईआर)- सैन्ट्रल बिल्डिंग रिसर्च इंस्टीट्यूट (सीबीआरआई) रूड़की के स्थापना दिवस के प्लेटिनम जुबली के समारोह अवसर पर किया। इस अवसर पर सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने सीएसआईआर-सीबीआरआई के सहयोग से बनाए गए कोविड-19 मेक शिफ्ट अस्पतालों के लोकार्पण करने पर उप-राष्ट्रपति का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि टांडा (Tanda) में 66 बिस्तरों की सुविधा वाले कोविड-19 अस्पताल के बुनियादी ढांचे पर 3.44 करोड़ रुपये व्यय किए गए हैं और नालागढ़ में बनाए गए 45 बिस्तरों की सुविधा वाले कोविड-19 मेक शिफ्ट अस्पताल पर 2.36 करोड़ रुपये व्यय किए गए हैं। उन्होंने कहा कि इन्दिरा गांधी चिकित्सा महाविद्यालय शिमला में 18 बिस्तरों की सुविधा वाला मेक शिफ्ट अस्पताल पहले ही कार्य कर रहा है, जिस पर 1.37 करोड़ रुपये व्यय किए गए हैं। उन्होंने कहा कि जिला मंडी के नेरचैक में 6.11 करोड़ रुपये की लागत से 100 बिस्तरों वाले मेक शिफ्ट अस्पताल का निर्माण किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: #HPCabinet : हिमाचल के इन दो अस्पतालों में जल्द शुरू होंगी OPD, अभी हैं कोविड सेंटर

सीएम जयराम ने कहा कि पिछले वर्ष अगस्त-सितम्बर महीने के दौरान कोविड-19 मामलों में तीव्र वृद्धि के कारण मरीजों के बिस्तरों की आवश्यकता को पूरा करने के लिए राज्य में मेक शिफ्ट अस्पताल बनाने की आवश्यकता महसूस की गई। उन्होंने कहा कि सीएसआईआर-सीबीआरआई द्वारा निर्मित ये मेक शिफ्ट अस्पताल ना केवल बहुत कम समय में निर्मित किए गए हैं, बल्कि इनमें सभी आधुनिक सुविधाएं (Modern Facility) हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में अब कोरोना वायरस के सक्रिय मामलों की संख्या में भारी कमी के कारण राज्य सरकार ने लोगों को सुविधा प्रदान करने के लिए आईजीएमसी शिमला (IGMC Shimla) के मेक शिफ्ट अस्पताल को मेडिसन इन्टेंसिव केयर यूनिट, टांड के मेक शिफ्ट अस्पताल को संक्रामक बीमारी वार्ड, नालागढ़ के मेक शिफ्ट अस्पताल को ट्रॉमा केयर सेंटर और जिला मंडी के नेरचैक के मेकशिफ्ट अस्पताल को सुपर स्पेशियलटी वार्ड के रूप में परिवर्तित करने का निर्णय लिया है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है