Covid-19 Update

2, 43, 365
मामले (हिमाचल)
2, 28, 454
मरीज ठीक हुए
3874*
मौत
37,380,253
मामले (भारत)
328,826,023
मामले (दुनिया)

हिमाचल विधानसभा की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित, 5 बैठकों में साढ़े 27 घंटें हुई चर्चा

13 दिसंबर को रात 9:15 बजे तक चर्चा हुई जो अपने आप में है कीर्तिमान

हिमाचल विधानसभा की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित, 5 बैठकों में साढ़े 27 घंटें हुई चर्चा

- Advertisement -

रविन्द्र चौधरी, धर्मशाला। हिमाचल प्रदेश की 13वीं विधानसभा का 13वां सत्र आज संपन्न हो गया। विधानसभा अध्यक्ष विपिन परमार (Vidhan Sabha Speaker Vipin Parmar) ने हिमाचल प्रदेश विधानसभा सदन की कार्यवाही समाप्ति के साथ अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दी। शीतकालीन सत्र (Winter Session) की समापन पर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि शीतकालीन सत्र में कुल 5 बैठकें हुई, जिसमें साढ़े 27 घंटे चर्चा हुई। 14 दिसंबर 2021 का एक दिन गैर सरकारी कार्य दिवस के लिए निर्धारित किया गया था। 13 दिसंबर को रात 9:15 बजे तक चर्चा हुई जो कि अपने आप में कीर्तिमान है। इस सत्र में काफी महत्वपूर्ण सुझाव भी आए। सत्र में 281 तारांकित और 138 अतारांकित प्रश्नों के उत्तर सदन में दिए गए। 5 विधेयक भी सदन में लाए गए जिनमें से 3 में संशोधन भी प्राप्त हुए और उसके बाद विधेयक को पारित किया गया। दोनों पक्षों ने सदन की कार्यवाही को चलाने में पूरा सहयोग दिया गया।

यह भी पढ़ें: पुलिस ने रोकी भूमि अधिग्रहण प्रभावितों की रैली, सड़क से ही सरकार को दे डाली धमकी

विपिन परमार ने कहा कि कोरोना (Corona) महामारी में इस सत्र का आयोजन करना एक चुनौतीपूर्ण कार्य था, लेकिन जिला प्रशासन तथा विधान सभा सचिवालय के अधिकारी व कर्मचारी इसके आयोजन के लिए पूरी तरह सजग व समर्पित थे। हिमाचल प्रदेश सरकार के बहुमूल्य सहयोग तथा इन सभी के प्रयासों से ही यह संभव हो पाया है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश विधानसभा अपनी गरिमा, मर्यादा तथा उच्च परंपराओं के लिए शुरू से ही पूरे भारतवर्ष में जानी जाती है। यह देश की सर्वप्रथम ई-विधान सभा है। प्रश्नकाल भी हुए नियमों के तहत चर्चाएं भी हुई। सत्र में जनहित के महत्वपूर्ण विषयों पर प्रश्नों के माध्यम से चर्चा हुई व सुझाव दिए गये जिनके दूरगामी परिणाम होंगे।

 

 

 

नियम-324 के अन्तर्गत विशेष उल्लेख के माध्यम से 13 विषय सभा में उठाये गये तथा सरकार द्वारा इस संबंध में वस्तुस्थिति की सूचना सभा व माननीय सदस्यों को दी गई। सभा की समितियों ने भी 22 प्रतिवेदन सभा में उपस्थापित किये। इसके अतिरिक्त मन्त्रियों द्वारा अपने-अपने विभागों से संबंधित दस्तावेज भी सभा पटल पर रखे गए तथा महत्वपूर्ण वक्तव्य भी दिये गए। इसी सत्र में उप चुनाव में निर्वाचित हुए सदस्यों का भी परिचय करवाया गया।

सत्र के दौरान प्रथम दिन जहां माननीय सदस्यों द्वारा हैलीकॉप्टर क्रैश में शहिद हुए संयुक्त रक्षा सेवा के प्रमुख जनरल विपिन सिंह रावत उनकी धर्मपत्नी मधुलेखा रावत तथा 12 अन्य सैन्य अधिकारी / कर्मचारी जिसमें हिमाचल प्रदेश के महान सपूत लांस नायक विवेक कुमार भी शामिल थे को भी सदन में श्रद्धांजली दी गई। इसके अतिरिक्त पिछले सत्र से इस सत्र के बीच पूर्व मंत्री जीएस बाली, पूर्व सदस्य डॉ. शिव कुमार तथा बोध राज का निधन हुआ था को समूचे सदन द्वारा श्रद्धांजली दी गई तथा सदन द्वारा उनके परिवार के प्रति हार्दिक संवेदना प्रकट की गई तथा शोक सतंप्त परिवार को इस असहनीय कष्ट को सहन करने की प्रार्थना की गई।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है