Covid-19 Update

3,12, 233
मामले (हिमाचल)
3, 07, 924
मरीज ठीक हुए
4189
मौत
44,600,711
मामले (भारत)
624,275,834
मामले (दुनिया)

 सर्वदलीय बैठकः  विपिन परमार ने मांगा सहयोग तो मुकेश बोले आक्रामक तरीके से घेरेंगे सरकार को

मॉनसून सत्र  से विधानसभा अध्यक्ष ने सर्वदलीय बैठक बुलाई, केवल मुद्दों पर चर्चा के लिए की अपील

 सर्वदलीय बैठकः  विपिन परमार ने मांगा सहयोग तो मुकेश बोले आक्रामक तरीके से घेरेंगे सरकार को

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल प्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र (Monsoon session of Himachal Vidhansabha)दस से 13 अगस्त तक होगा। मानसून सत्र शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न हो इसके लिए विधानसभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार (Vipin Singh Parmar) ने एक सर्वदलीय बैठक बुलाई। इस बैठक का मकसद विपक्ष से सहयोग मांगना रहा। चूंकि बीजेपी सरकार का यह आखिरी मानसून सत्र होगा तो विधानसभा अध्यक्ष ने विपक्ष से हर प्रकार का सहयोग करने की मांग की है। मौजूदा सरकार चाहती है कि यह मॉनसून सत्र शांतिपूर्ण ढंग से निपटे और मुद्दों को हल किया जा सके। यह तभी संभव होगा जब विपक्ष का रवैया सहयोगपूर्ण रहेगा। इसलिए सभी दलों से शांति बनाए रखने और सहयोग की अपील की है। वहीं दूसरी ओर नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री (Mukesh Agnihotri) के तेवर तल्ख दिखे। उन्होंने कहा कि सरकार का आखिरी सत्र है तो हम हर हाल में सरकार को घेरेंगे।

यह भी पढ़ें:हिमाचल: मानसून सत्र में बेरोजगारी, खस्ता सड़कों को लेकर पूछे गए ज्यादा सवाल, 19 बैठकें होंगी

बैठक खत्म होने के बाद संसदीय कार्य मंत्री सुरेश भारद्वाज (Suresh Bhardwaj)  ने कहा कि मौजूदा सरकार का यह आखिरी मॉनसून सत्र है इसलिए सरकार की विपक्ष  से सहयोग की उम्मीद है। सदन के सदस्यों की ओर से अलग-अलग विषयों पर कई प्रश्न प्राप्त हुए हैं। उन्होंने उम्मीद जताई है कि यह मॉनसून सत्र कार्यशील रहेगा। उन्होंने कहा कि सत्र के दौरान लोगों की समस्याओं पर चर्चा होना बहुत जरूरी है।

वहीं इस बैठक में नेता मुकेश अग्निहोत्री ने दोटूक कहा कि सरकार का आखिरी सत्र है। यह सर्वविदित है कि अब सत्ता में कांग्रेस की सरकार ही आएगी। बढ़ती महंगाई (Inflation) और बेरोजगारी से जनता काफी परेशान है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस इस सत्र में पूरी तरह से जनता के मुद्दे उठाएगी और आक्रामक तरीके से पूरी तरह सरकार को घेरेगी। हमने सरकार को घेरने की रणनीति तैयार कर ली है।  नियमों के तहत मौका मिले या न मिले हम तो हर हाल में सरकार को घेरेंगे। उन्होंने कहा कि जयराम ठाकुर सत्र से डरती है, इसलिए ही चार बैठकें रखी गई हैं। सरकार साल की 35 बैठकें भी पूरी नहीं कर पा रही है।  इस सर्वदलीय बैठक की अध्यक्षता विपिन सिंह परमार ने की, जबकि इस दौरान संसदीय कार्यमंत्री सुरेश भारद्वाज, मुख्य सचेतक विक्रम जरियाल (Vikram Jaryal), नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री और सीपीआईएम राकेश सिंघा आदि मौजूद रहे।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है