Covid-19 Update

2,16,813
मामले (हिमाचल)
2,11,554
मरीज ठीक हुए
3,633
मौत
33,448,163
मामले (भारत)
229,050,821
मामले (दुनिया)

अब Vodafone-Idea नहीं VI की सिम चलाइए; नए नाम से दिखेगा ब्रांड; महंगे हो सकते हैं प्लान्स!

आइडिया को वोडाफोन में अगस्त 2018 में विलय हुआ था

अब Vodafone-Idea नहीं VI की सिम चलाइए; नए नाम से दिखेगा ब्रांड; महंगे हो सकते हैं प्लान्स!

- Advertisement -

नई दिल्ली। टेलिकॉम सेवा प्रदाता कंपनी वोडाफोन आइडिया (Vodafone-Idea) ने नया ब्रांड वीआई (VI) को लॉन्च किया है। कंपनी ने 7 सितंबर को रीब्रांडिंग करते हुए एक नया ब्रांड लॉन्च किया है। इसे Vi नाम से जाना जाएगा। कंपनी के मुताबिक इसे हम ‘We’ के रूप में पढ़ सकते हैं। इस कंपनी का मालिकाना हक ब्रिटेन की वोडाफोन और आदित्य बिड़ला ग्रुप के पास है। इसमें V वोडाफोन और i आइडिया के लिए है। आइडिया को वोडाफोन में अगस्त 2018 में विलय हुआ था। आज एक नई ब्रांडिंग का ऐलान करते हुए कंपनी ने कहा कि इन दो ब्रांड का विलय दुनिया का अब तक सबसे बड़ा टेलीकॉम इंट्रीग्रेशन है।

टैरिफ की कीमतें बढ़ेंगी!

ब्रांड वीआई (VI) के लॉन्च के अवसर पर कंपनी के सीईओ रविन्दर टक्कर ने कहा कि वोडाफोन आइडिया का विलय दो साल पहले हुआ था। हम तबसे दो बड़े नेटवर्क, हमारे लोगों और प्रोसेस के एकीकरण की दिशा में काम कर रहे थे। आज Vi ब्रांड को पेश करते हुए मुझे काफी खुशी हो रही है। उन्होंने आगे कहा कि यह अहम कदम है। इसका साथ ही एकीकरण की प्रक्रिया पूरी हो गई है। टक्कर ने कहा कि कंपनी पहले कदम के तौर पर टैरिफ में बढ़ोतरी के लिए तैयार है। नए टैरिफ से कंपनी को एआरपीयू सुधारने में मदद मिलेगी। गौरतलब है कि इन दिनों वोडाफोन आइडिया संकट के दौर से गुजर रही है। हालांकि, एजीआर बकाया को लेकर सुप्रीम कोर्ट से कंपनी को राहत मिली थी। कंपनियां अब 10 साल में अपना एजीआर बकाया चुका सकती है। आइडिया को करीब 50 हजार करोड़ का बकाया जमा करना है जिसमें ज्यादातर एजीआर का है।

यह भी पढ़ें: Twitter लाया Quote Tweet का फ़ीचर, जानिए क्या है नया

कंपनी ने ये भी दावा है कि मर्जर के बाद से देश भर में 4G की कवरेज डबल हो गई है। हालांकि कंपनी ने इस दौरान नए प्लान्स का तो ऐलान नहीं किया है, लेकिन ये हिंट दिया गया है टैरिफ की कीमतें बढ़ेंगी। प्रेस कॉन्फ़्रेंस के दौरान वोडाोफोन आईडिया लिमिटेड के सीईओ रविंद्र टक्कर ने ये भी कहा है कि सभी कम क़ीमत पर बेच रहे हैं और कंपनी को कदम उठाने में शर्म की बात नहीं है। यहां वो इस बात के लिए भी हिंट दे रहे थे कि आने वाले समय में बेहतर सर्विस के साथ ही टैरिफ़ की क़ीमतें भी बढ़ाईं जा सकती हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whatsapp Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है