Covid-19 Update

2,18,693
मामले (हिमाचल)
2,13,338
मरीज ठीक हुए
3,656
मौत
33,697,581
मामले (भारत)
233,301,085
मामले (दुनिया)

किन्नौर लैंडस्लाइड: मौत की बारिश को 36 घंटे बीते, 16 लोग अब भी लापता

किन्नौर लैंडस्लाइड में 15 की मौत, 13 घायल और 16 अब भी लापता

किन्नौर लैंडस्लाइड: मौत की बारिश को 36 घंटे बीते, 16 लोग अब भी लापता

- Advertisement -

रिकांगपिओ। किन्नौर लैंडस्लाइड ने एक बार फिर हिमाचल को गहरे जख्म दिए है। हादसे के 30 घंटे से अधिक बीत जाने के बावजूद रेस्क्यू ऑपरेशन का काम पूरा नहीं हो सका है। अभी भी रूक-रूक कर पहाड़ से मौत बरसने का सिलसिला जारी है। हालांकि, बीते दो दिनों में 13 लोगों को रेस्क्यू किया गया। जिनमें दो की हालत गंभीर बनी हुई है। वहीं, अभी तक 15 लोगों की इस हादसे में मौत हो चुकी है। गुरुवार को 4 शवों की बरामदगी हुई तो वहीं बुधवार के दिन 10 शवों को मलबे के भीतर से निकाला गया। वहीं, ड्रोन के जरिए भी इलाके का चप्पा-चप्पा छाना जा रहा है। वहीं, गुरुवार को रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान लापता बस भी मिल गई। बताया जा रहा है कि इस बस में करीब दो दर्जन लोग सवार थे। जिनमें से अधिकतर अब भी लापता है।

यह भी पढ़ें: किन्नौर लैंडस्लाइड: 13 शव निकाले-रेस्क्यू के दौरान मलबे से एचआरटीसी की बस का कुछ हिस्सा-टायर मिले

 

 

अभी तक क्या क्या हुआ

हादसे के 9 घंटे के भीतर 10 शवों को बरामद कर लिया गया। गुरुवार को 5 शव आज बरामद हुए हैं। गुरुवार को रेस्क्यू के दौरान कोई जीवित नहीं मिला। साथ ही शव भी क्षत-विक्षत हाल में मिले। इसके अलावा बोलेरो और बस के मलबे भी घटनास्थल से 500 मीटर दूर सतलुज नदी के किनारे मिले। मलबा हटाने के लिए नुरपूर से भी जवानों को बुलाया गया।

यह भी पढ़ें: पिता की तलाश में बेटा निकला, शव देखकर धड़ाम से जमीन पर बैठ गया

 

 

गुरुवार सुबह घटनास्थल पर पहुंचे सीएम जयराम ठाकुर

सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) किन्नौर के न्यूगलसेरी में हुए लैंडस्लाइड का जायजा लेने के लिए घटनास्थल पर पहुंचे। सीएम ने पहले हवाई सर्वे किया और फिर घटनास्थल पर पहुंचकर राहत व बचाव का जायजा लिया। इसके बाद सीएम उन लोगों से भी मिले जिन लोगों ने अपनों को इस हादसे में खोया है और जिनके परिजन अभी तक मिले नहीं है। सीएम ने उनसे मिल कर संवेदनाएं व्यक्त की। सीएम जयराम ने इस हादसे में जान गंवाने वालों के परिजनों को 4-4 लाख मुआवजा देने की घोषणा की है। साथ ही गंभीर रूप से घायलों को सरकार 50 हज़ार देगी।

यह भी पढ़ें: हिमाचल में अब मंडी में दरका पहाड़, मलबे की चपेट में आया ट्रक -चालक घायल

 

 

परिवहन विभाग भी देगी 1 लाख रुपए का मुआवजा

इसके अलावा परिवहन विभाग इस हादसे में जान गंवाने वाले बस यात्रियों के परिजनों को एक-एक लाख रुपये देगा। सीएम ने कहा कि सरकार सभी का मुफ्त इलाज करेगी । उन्होंने मृतकों और लापता लोगों के परिजनों से मिलकर अपनी गहरी संवेदनाएं व्यक्त की और आश्वासन दिया कि संकट की इस घड़ी में सरकार उनके साथ खड़ी है और उन्हें हर सम्भव सहायता प्रदान की जाएगी। सीएम ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र भावनगर पहुंचकर घायलों का कुशलक्षेम भी जाना। उन्होंने घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की और चिकित्सा अधिकारियों को घायलों को बेहतर उपचार सुविधा प्रदान करने के निर्देश दिए।

 

कांग्रेस के भी कई नेता पहुंचे न्यूगलसेरी

दुख की इस घड़ी में कांग्रेस नेता भी शोकाकुल परिजनों से मिलने पहुंचे। नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री और विक्रमादित्य व जगत नेगी भी परिजनों से मुलाकात की। वहीं, हादसे के प्रति गहरा दुख प्रकट किया। इस मौके पर कांग्रेस नेताओं ने कहा कि इस दुख की घड़ी में पूरी कांग्रेस पीड़ित परिजनों के साथ खड़ी है। नेताओं ने कहा कि जिस तरीके से हम विकास के नाम पर पर्यावरण के साथ छेड़ छाड़ कर रहें हैं, बिना सोचें समझें बड़े हाइड्रो प्रोजेक्ट लगा रहें है। इस पर हम सबको दोबारा चिंतन करने की ज़रूरत हैं। विधानसभा में जल्द हम इस विषय पर सरकार का ध्यान आकर्षण करेंगे।

 

राष्ट्रपति ने जताई हादसे पर संवेदना

किन्नौर लैंडस्लाइड हादसे पर राष्ट्रपति ने संवेदना जताई है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रपति ने आज दूरभाष के माध्यम से राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर से बात कर इस घटना के बारे में विस्तृत जानकारी ली। उन्होंने मृतकों के परिजनों के प्रति संवेदनाएं व्यक्त करते हुए आशा जताई की कि मलबे में फंसे सभी व्यक्तियों को शीघ्र सुरक्षित निकाल लिया जाएगा।

पीएम और गृहमंत्री भी जता चुके हैं हादसे के प्रति संवेदना

हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिला के निगुलसरी में हुए भयावह लैंडस्लाइड को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने दुख जताया है। साथ ही सीएम जयराम को फोन पर केंद्र की ओर से हर संभव मदद उपलब्ध करवाने का भरोसा दिया।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है