Covid-19 Update

57,162
मामले (हिमाचल)
55,672
मरीज ठीक हुए
958
मौत
10,636,056
मामले (भारत)
98,348,639
मामले (दुनिया)

अनिल अंबानी ने खुद को बताया ‘आम आदमी’: कोर्ट से बोले- भाई की प्रॉपर्टी में बिना किराया दिए रह रहा हूं

कोर्ट में बताया- कानूनी खर्च उठाने के लिए मैंने 9.9 करोड़ रुपए में अपनी ज्वैलरी बेची

अनिल अंबानी ने खुद को बताया ‘आम आदमी’: कोर्ट से बोले- भाई की प्रॉपर्टी में बिना किराया दिए रह रहा हूं

- Advertisement -

नई दिल्ली। कर्ज में फंसे भारतीय कारोबारी अनिल अंबानी (Anil Ambani) की वित्तीय स्थिति काफी खराब हो गई है। कभी देश के शीर्ष उद्योगपतियों में शुमार रहे अनिल अंबानी ने लंदन की अदालत के सामने खुद को आम आदमी करार दिया है। रिलायंस अनिल धीरूभाई अंबानी समूह के चेयरमैन अनिल अंबानी ने यूके की एक अदालत को बताया है कि वह आम ज़िंदगी जीने वाले आम आदमी हैं और उनके पास ‘कुछ मूल्यवान’ नहीं है। बकौल अंबानी, ‘कानूनी खर्च उठाने के लिए मैंने 9.9 करोड़ रुपए में अपनी ज्वैलरी बेची। मेरे पास कभी रोल्स रॉयस कार नहीं थी, मैं एक ही कार इस्तेमाल करता हूं।’

अनिल अंबानी के पास अब केवल 1,10,000 डॉलर की एक पेंटिंग है

अनिल अंबानी ने बताया है कि वह भाई मुकेश अंबानी की प्रॉपर्टी में निशुल्क रह रहे हैं। यूके की कोर्ट से उन्होंने कहा, ‘मेरे खर्च कम हैं, जिन्हें मेरी पत्नी-परिवार उठा रहा है। मेरी जीवनशैली खर्चीली नहीं है।’ अनिल से $70 करोड़ वसूलने की कोशिश कर रहे चीनी बैंकों ने कहा, ‘वह हमें पैसे नहीं चुकाने की हरसंभव कोशिश कर रहे हैं।’ सुनवाई के दौरान कोर्ट ने लग्जरी दुकानों पर क्रेडिट कार्ड से खर्च पर सवाल उठाया। इस पर अनिल अंबानी ने कहा कि इस क्रेडिट कार्ड पर उनकी मां कोकिलाबेन अंबानी खर्च करती हैं। मां से 66 मिलियन डॉलर और बेटे से 41 मिलियन डॉलर के लोन के सवाल पर अनिल अंबानी ने कहा कि वे इस लोन की शर्तों की जानकारी नहीं दे सकते हैं। लेकिन, यह लोन गिफ्ट नहीं हैं। अंबानी ने कोर्ट में कहा कि वे कभी भारत के सबसे धनी लोगों में शुमार होते थे, लेकिन अब उनके पास 1,10,000 डॉलर की केवल एक पेंटिंग है।

यह भी पढ़ें: नया नियम: #Road_Accident में गई जान तो परिजनों को घर बैठे मिलेगा 5 लाख मुआवजा; जानें

अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस कम्युनिकेशन (आरकॉम) ने चीन के तीन सरकारी बैंकों से कॉरपोरेट लोन लिया था। लेकिन, आरकॉम इस लोन का भुगतान करने में विफल हो गई थी। चीनी बैंकों का कहना था कि इस लोन के लिए अनिल अंबानी ने पर्सनल गारंटी दी थी। वहीं, चीनी बैंकों को भुगतान ना मिलने के बाद से यह मामला लंदन की कोर्ट में है। इंडस्ट्रियल एंड कमर्शल बैंक ऑफ चाइना, एक्सपोर्ट एंड इंपोर्ट बैंक ऑफ चाइना और चाइना डिवेलपमेंट बैंक ने अपने बयान में कहा कि वो उनके खिलाफ सभी कानूनी विकल्पों का इस्तेमाल करेंगे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whatsapp Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है