×

Himachal : प्रत्याशियों की गैरमौजूदगी में बीजेपी और कांग्रेस ने मंडी में जारी किए घोषणापत्र

बीजेपी बनाएगी शहर के लिए मास्टर प्लान, तो कांग्रेस ने ग्रामीण क्षेत्रों को एमसी से बाहर करने का किया वादा

Himachal : प्रत्याशियों की गैरमौजूदगी में बीजेपी और कांग्रेस ने मंडी में जारी किए घोषणापत्र

- Advertisement -

मंडी। हिमाचल में हो रहे नगर निगम चुनाव के लिए आज मंडी में बीजेपी (BJP) और कांग्रेस ने अपने अपने चुनावी घोषणापत्र (Manifesto) प्रत्याशियों की गैरमौजूदगी में ही जारी कर दिए। दोनों ही दलों ने घोषणापत्रों को जारी करते वक्त उन उम्मीदवारों को बुलाना उचित नहीं समझा जिनके कंधों पर इन वायदों को पूरा करने का दारोमदार रहेगा। ना तो बीजेपी का कोई प्रत्याशी घोषणापत्र (Candidates) जारी करते वक्त मौजूद रहा और ना ही कांग्रेस का। सिर्फ बड़े नेताओं ने ही इन घोषणापत्रों को जारी किया। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने बीजेपी के तो पूर्व मंत्री एवं प्रचार कमेटी के अध्यक्ष कौल सिंह ठाकुर (Kaul Singh Thakur) ने कांग्रेस के घोषणापत्र को जारी किया। बीजेपी ने अपने घोषणापत्र को लोक कल्याण संकल्प पत्र का नाम दिया है। जबकि, कांग्रेस ने वचनबद्धता पत्र का नाम दिया है।


यह भी पढ़ें: चुनाव आयोग जाएगी Congress, आचार संहिता के उल्लंघन की करेगी शिकायत

 

 

बीजेपी बनाएगी शहर के लिए मास्टरप्लान

बीजेपी ने पूरे मंडी शहर के विकास के लिए मास्टर प्लान (Master Plan) बनाने की बात कही है। इसके लिए सरकार ने कार्य करना भी शुरू कर दिया है। इसके अलावा बीजेपी के घोषणापत्र में आधुनिक बायो डस्टबिन, वर्षा जल संग्रहण, कृत्रिम झीलें, रोप-वे, पर्यटन सहायता केंद्र, पार्क, कैफे हाउस, सिवरेज व्यवस्था में सुधार, पार्किंग, फ्लाई ओवर, ओवर ब्रिजिज, अंडर पास, छोटे कामगारों को बिना गारंटी लोन, अत्याधुनिक लाइब्रेरी और प्रतियोगी परिक्षाओं के लिए अकादमी जैसे बड़े वायदे शामिल हैं।

 

कांग्रेस 2022 में पूरा करेगी अपने चुनावी वादे

कांग्रेस का घोषणापत्र (Congress Manifesto) जारी करते समय कौल सिंह ठाकुर ने स्पष्ट कर दिया कि जो वायदे उनकी पार्टी मंडी शहर की जनता से करने जा रही है उन्हें 2022 में प्रदेश में कांग्रेस पार्टी की सरकार बनने के बाद ही पूरा किया जाएगा। कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में ग्रामीण क्षेत्रों को निगम से बाहर करने, पार्किंग, बाईपास रोड़, शुल्कों में पचास फीसदी की कटौती, आधुनिक पुस्तकालय, ऑडिटोरियम, पार्क, महिलाओं के लिए अलग जिम और स्वरोजगार की बात कही है। वहीं, अन्य मुद्दों की बात करें तो सफाई, सिवरेज, लाईट सिस्टम और अन्य प्रकार की कॉमन बातें दोनों ही घोषणापत्रों में कही गई हैं।

यह भी पढ़ें: कांग्रेसी हाथ थामते ही दयाल प्यारी ने पच्छाद को लेकर कह दी बड़ी बात, पढ़े ये रपट

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है