Covid-19 Update

2,86,061
मामले (हिमाचल)
2,81,413
मरीज ठीक हुए
4122
मौत
43,452,164
मामले (भारत)
551,819,640
मामले (दुनिया)

हिमाचल: पैतृक गांव पहुंची वनरक्षक राजेश की पार्थिव देह, कल होगा अंतिम संस्कार

कृषि मंत्री सहित विभागीय अधिकारी और अन्य नेताओं ने अर्पित किए श्रद्धा सुमन

हिमाचल: पैतृक गांव पहुंची वनरक्षक राजेश की पार्थिव देह, कल होगा अंतिम संस्कार

- Advertisement -

ऊना/गोहर। हिमाचल के ऊना (Una) जिला के सैली गांव के जंगल में 20 मई को हुई आगजनी की चपेट में आए वनरक्षक राजेश कुमार (forest guard Rajesh Kumar) की पार्थिव देह मंगलवार देर शाम उनके पैतृक गांव बदोली पहुंची। राजेश का शव गांव में पहुंचते ही मातमी चीत्कार के साथ सन्नाटा पसर गया। वहीं बुधवार को पैतृक गांव में वनरक्षक राजेश कुमार का अंतिम संस्कार (Funeral) किया जाएगा। गौरतलब है कि हादसे के बाद नाजुक हाल में राजेश को पीजीआई रेफर किया गया था, जहां 3 दिन तक जिंदगी और मौत के बीच चली जंग राजेश हार गया। फर्ज की राह पर प्राणों की आहुति देने वाले राजेश ने एक मिसाल कायम की है।

यह भी पढ़ें:हिमाचल: जंगल की आग बुझाते झुलसे वन रक्षक ने पीजीआई में तोड़ा दम

आगजनी का शिकार हुए वनरक्षक राजेश कुमार की पार्थिव देह (Dead Body) मंगलवार देर शाम उनके पैतृक गांव बदोली पहुंची। राजेश कुमार को श्रद्धा सुमन अर्पित करने के लिए कृषि मंत्री वीरेंद्र कंवर, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष विवेक शर्मा, वन मंडल अधिकारी मृत्युंजय माधव समेत विभाग के सभी अधिकारी और कर्मचारी उनके निवास पर पहुंचे। राजेश के घर का माहौल बेहद गमगीन था। वही हर आंख नम देखी गई। इस मौके पर कृषि मंत्री वीरेंद्र कंवर (Agriculture Minister Virender Kanwar) ने कहा कि राजेश कुमार ने फर्ज की राह पर अपने प्राणों की आहुति देते हुए अन्य लोगों के लिए भी एक मिसाल कायम की है। उन्होंने कहा कि असामाजिक तत्वों ने जंगल में आग लगाई थी। वही तूफान के चलते आगजनी ने रौद्र रूप धारण कर लिया और 20 मई को हुई इस घटना में आग पर काबू पाने के दौरान राजेश कुमार उसकी चपेट में आ कर करीब 90 फ़ीसदी तक झुलस गए थे। पीजीआई चंडीगढ़ में करीब 3 दिनों तक चले उपचार के बाद राजेश ने दम तोड़ दिया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार दिवंगत राजेश के परिवार के साथ खड़ी है। जांबाज वनरक्षक राजेश के परिवार को जो भी संभव मदद होगी सरकार द्वारा उपलब्ध कराई जाएगी।

 

सीएम जयराम ने वन रक्षक के निधन पर जताया शोक

वहीं सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने वन रक्षक राजेश कुमार के निधन पर शोक व्यक्त किया है। राजेश कुमार ने आज स्नातकोत्तर चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान (पीजीआई) चंडीगढ़ में अन्तिम सांस ली। सीएम जयराम ने दिवंगत आत्मा की शान्ति और शोक संतप्त परिजनों को इस अपूर्णीय क्षति को सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की।

मशोग में गलती से जहरीला पदार्थ निगलने से व्यक्ति की मौत

मंडी के गोहर क्षेत्र के मशोग गांव में एक व्यक्ति ने गलती से जहरीला पदार्थ निगल लिया, जिससे उसकी मौत हो गई। मृतक व्यक्ति की पहचान 51 वर्षीय मेद राम पुत्र मंगल देव गांव मसोग तहसील चच्योट के रूप में पुलिस ने की है। स्थानीय पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए जोनल अस्पताल मंडी भेज दिया है। एसएचओ गोहर देश राज ने घटना की पुष्टि की है। बताया जा रहा है कि मेद राम ने सोमवार को घर में गलती से कोई जहरीला पदार्थ निगल लिया। जिससे उसकी तबियत खराब हो गई। परिजनों ने उसे तुरंत नागरिक चिकित्सालय गोहर उपचार के लिए भर्ती किया। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। एसएचओ देश राज ने बताया कि पुलिस घटना की छानबीन कर रही है।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है